News

भारतीय करते हैं कम फलों और सब्जियों का उपयोग...

नई दिल्ली: शहरों पर हुई एक रिसर्च में पाया गया कि भारतीय खाद्य पदार्थो में मौजूद विभिन्न प्रकार की विविधता के बावजूद पोषक तत्वों और महत्वपूर्ण विटामिन की बहुत कम खुराक लेते हैं.

प्रति व्यक्ति 40 ग्राम हरी पत्तेदार सब्जियां लेना है जरूरी-
रिसर्च में सामने आए आंकड़े बताते हैं कि प्रति व्यक्ति 40 ग्राम हरी पत्तेदार सब्जियां लेना जरूरी होता है. जबकि देश में इसका औसत आंकड़ा प्रति व्यक्ति केवल 24 ग्राम ही है. अनाज और बाजरा का औसत सेवन 320 ग्राम प्रतिदिन पाया गया है. वहीं दालों और फलियां का सेवन 42 ग्राम प्रतिदिन देखा गया.

फलों और सब्जियों का सेवन करने के फायदे-
रिसर्च में कहा गया है जो लोग फलों और सब्जियों का अधिक सेवन करते हैं, वे हड्डियों की परेशानी से 42 प्रतिशत तक बचे रहते हैं. बहुत सारे फल और सब्जियां खाने, नमक पर नियंत्रण रखने और स्वस्थ वजन बनाए रखने, संतुलित आहार लेने से हृदय रोग और स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में मदद मिलती है.

क्या कहते हैं डॉक्टर्स-
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) और हार्ट केयर फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ. के. के. अग्रवाल और आईएमए के मानद महासचिव डॉ. आर. एन. टंडन ने कहा कि गैर-संचारी रोगों (Non-communicable diseases) का भार बढ़ने के प्रमुख कारकों में से एक यह है कि लोग अनहेल्दी आहार लेते हैं जिसमें फलों और सब्जियों की कमी रहती है. भारत में गैर-संचारी रोगों और लाइफस्टाइल से जुड़ी बीमारियों का बोलबाला है. अनहेल्दी आहार मोटापे, रक्तचाप, रक्त शर्करा और रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है. फलों और सब्जियों को दैनिक रूप से थोड़ा-थोड़ा कर पांच बार सेवन करना चाहिए.

नहीं लेते फाइबरयुक्त फूड-
शोध के अनुसार, भारतीय अपनी दैनिक ऊर्जा का 30 प्रतिशत हिस्सा फैटी फूड से लेते हैं और लोग फाइबरयुक्त फूड का भी कम सेवन करने लगे हैं. भारतीयों में काफी हद तक चेतावनी के संकेतों को अनदेखा करने की आदत होती है.



Share your comments