MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

पुराने 5 और 10 रुपये के सिक्के आपको बना सकते हैं रातो - रात करोड़पति, जानें कैसे

ज्यादातर लोगों को पुराने सिक्के जमा करने की आदत होती है अगर आपको भी है तो आप उन भाग्यशाली लोगों में से एक हो सकते हैं और करोड़पति लोगों की सूची में अपना नाम दर्ज करवा सकते हैं. हम में से ज्यादातर लोग अच्छी तरह से जानते हैं कि जब चीजें पुरानी हो जाती हैं,

मनीशा शर्मा
Rupee

ज्यादातर लोगों को पुराने सिक्के जमा करने की आदत होती है अगर आपको भी है तो आप उन भाग्यशाली लोगों में से एक हो सकते हैं और करोड़पति लोगों की सूची में अपना नाम दर्ज करवा सकते हैं. हम में से ज्यादातर लोग अच्छी तरह से जानते हैं कि जब चीजें पुरानी हो जाती हैं, तो वे प्राचीन श्रेणी में आ जाती हैं जिसकी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में काफी अच्छी मांग है. अब, आपकी पुरानी मुद्रा (Currency) भी आपको केवल कुछ ही मिनटों में मोटा पैसा दिलवा कर आपको धनवान बना सकती है, जिसके बारे में आप सोच भी नहीं सकते हैं.

rupee

दरअसल ई-कॉमर्स वेबसाइट्स पर इन दिनों ऐसा ही मौका मिल रहा है. मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक, अगर आपके पास माता वैष्णो देवी के 5 रुपये और 10 रुपये के मूल्यवर्ग के सिक्के हैं, तो आप उन्हें ऑनलाइन वेबसाइटों पर नीलामी (Auction) के लिए रख सकते हैं. यह सिक्के वर्ष 2002 में सरकार द्वारा जारी किए गए थे जोकि अब उच्च मांग में चल रहे हैं. जैसा कि, हिंदू धर्म में माता वैष्णो देवी की बहुत पूजा की जाती है, लोग इस तरह के एक सिक्के के लिए लाखों खर्च कर रहे हैं.

दूसरा अवसर जो आपको सेकंडों में बना सकता है धनवान

यह अवसर है '786' श्रृंखला वाले  मुद्रा नोट. यह श्रृंखला बेहद लोकप्रिय है, खासकर मुस्लिम समुदाय में 786 ’श्रृंखला वाली मुद्रा को शुभ माना जाता है और इसे संपन्नता और समृद्धि का प्रतीक माना जाता है. इसलिए, लोग ऐसी मुद्रा के मालिक होने के लिए अच्छी रकम खर्च कर रहे हैं. तो, ऐसे सिक्कों और मुद्राओं को ढूंढने के लिए अपनी अल्मारी, मेज के दराज में खोज शुरू करें और उन्हें ऑनलाइन नीलामी में डालकर मोटी धनराशि के मालिक बनें.

English Summary: Indian Old Currency Update: Now millionaires can make your old 5 and 10 rupee coins, learn how Published on: 12 October 2020, 11:51 AM IST

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News