1. ख़बरें

मध्य प्रदेश सरकार ने लिया किसानों के हित में ऐसा फैसला, खुशी से झूम उठे प्रदेश के किसान, जानिए क्या है यह फैसला

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Urad Moong

यूं तो सरकार किसानों के हित में हमेशा से कोई न कोई कदम उठाती ही रहती है, ताकि उनकी आर्थिक दशा दुरूस्त हो सकें. इस बीच मध्य प्रदेश सरकार ने भी किसानों के हित में एक ऐसा फैसला लिया है, जिसे जानकर प्रदेश के किसान खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं. इस लेख में पढ़ें, आखिर प्रदेश सरकार ने ऐसा कौन-सा फैसला लिया है, जिसे जानकर किसान भाई खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं.

प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला

दरअसल, मध्यप्रदेश सरकार ने कैबिनेट बैठक में किसानों की सुविधाओं के लिए उड़द व मूंग की फसल को आगामी 15 सितंबर तक खरीदने का फैसला किया है. वहीं, इसमें लगने वाला खर्चा भी सरकार खुद ही उठाएगी. इससे पहले केंद्र सरकार ने मध्य प्रदेश सरकार को किसानों से 2 लाख 47 हजार 253 मैट्रिक टन उड़द व मूंग ही खरीदने का निर्देश दिया था.

लेकिन अब प्रदेश सरकार ने ३ लाख उड़द व मूंग खरीदने की अनुमति केंद्र सरकार से मांगी है. इन सभी प्रक्रियाओं को मंजूरी प्रदान करने में कुल २ हजार रूपए तक अनुमानित लागत आएगी जिसे सरकार की तरफ से मंजूरी दी जा चुकी है.

कब तक बेच सकते हैं फसल

इसके साथ ही प्रदेश सरकार के अनुसार  किसान भाई आगामी १५ सितंबर तक अपनी फसल बेच सकते हैं. उन्हें अगर फसल बेचने के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या आ रही है, तो वे कृषि अधिकारी से संपर्क कर मदद ले सकते हैं. 

वहीं, प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री कमल पटेल ने सरकार के इस फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उड़द व मूंग की फसल को समर्थन मूल्य पर खरीदने की अनुमति देने के लिए शिवराज सिंह सरकार का आभार व्यक्त किया. यह फैसला किसानों के लिए हितकारी साबित होगा.

उधर, प्रदेश सरकार के इस फैसले से किसान भाई भी खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं. इस बात में कोई दो मत नहीं है कि राज्य सरकार का यह फैसला किसान भाइयों के लिए काफी लाभदायक साबित होगा. गौरतलब है कि प्रदेश सरकार किसानों के हित के लिए समय-समय पर कोई न कोई कदम उठाती रहती है. प्रदेश सरकार के इस फैसले को आगामी २०२२ तक किसानों की आय दुगुनी करने की दिशा में भी अहम माना जा रहा है.

English Summary: he Madhya Pradesh government has approved the sale of urad and moong crops

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News