गवर्नर वीपी बदनौर ने किया चंडीगढ़ ट्राईसिटी चैप्टर को लॉंच

भारतीय उद्योग परिसंघ द्वारा सीआईआई उत्तरी क्षेत्र मुख्यालय में चंडीगढ़ को महत्वकांशा का शहर बनाने पर आयोजित विशेष सत्र की पंजाब के गवर्नर तथा यूटी चंडीगढ़ के प्रशासक वीपी बदनौर ने अध्यक्षता की। इस दौरान गवर्नर वीपी बदनौर ने सीआईआई इंडियन वूमन नेटवर्क के चंडीगढ़ ट्राईसिटी चैप्टर को लॉंच किया जिसमें डा. रितेंद्र मोहन को आईडब्ल्यूएन चंडीगढ़ ट्राईसिटी चैप्टर की पहली चेयरमैन चुना गया। 
चंडीगढ़ को महत्वकांशा का शहर बनाने पर आयोजित विशेष सत्र को संबोधित करते हुए पंजाब के गवर्नर और यूटी के प्रशासक वीपी बदनौर ने कहा कि हमेंं शहर के समग्र विकास के लिए समाज के हर वर्ग हेतू अभी बहुत कुछ करना है क्योंकि हम चंडीगढ़ को स्मार्ट सिटी बनाने की तरफ बढ़ रहे हैं। इसके मायने यह हुए कि फिजिकली चैलेंज्ड और वृद्घों के लिए अभी बहुत से कदम उठाने होंगे। हमें ऐसा शहर तैयार करना होगा जो हर किसी की हौबी और दिलचस्पी को पूरा करे। 
स्मार्ट सिटी के रूप में चंडीगढ़ प्रशासन को स्वास्थ्य देखभाल और शिक्षा पर ध्यान देना चाहिए। स्मार्ट सिटी का भी मतलब अपराध और दुर्घटना से सुरक्षित शहर है। यूटी प्रशासन ने दो विद्यालयों में एक पायलट प्रोजेक्ट लॉन्च किया है जहां बच्चों को होमवर्क से मुक्त हैं और इस तरह स्कूल के बाद अपने माता-पिता के साथ अपना समय बिता सकते हैं। उन्होंने कहा कि सीआईआई से शहर के संपूर्ण विकास के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सुझावों का वे स्वागत करते हैं। सीआईआई उत्तरी क्षेत्र की अध्यक्ष रुमझुम चैटर्जी ने कहा कि बड़ी संख्या में प्रतिभाशाली लोगों की उपलब्धता जो नई भूमिकाएं और जिम्मेदारियों को उठाने के लिए तैयार हैं, शहर की एडवांटेज है। शहर में एक मजबूत उद्यमी पारिस्थितिकी तंत्र है जिसमें स्टार्ट-अप को प्रोत्साहित करने के लिए अवसर हैं। ऐसे में सीआईआई का फोकस स्टार्ट-अप पॉलिसी तैयार करना होगा। यह न केवल रोजगार के अधिक अवसरों को पैदा करेगा बल्कि साथ ही नए विचारों का अर्थव्यवस्था पर एक व्यापक सकारात्मक और स्थायी प्रभाव लाने में काफी मदद करेगा। सीआईआई इस महत्वपूर्ण और उभरते क्षेत्र पर प्रशासन के साथ काम करना चाहती है। स्टार्टअप के लिए सही पारिस्थितिकी तंत्र बनाने के लिए पॉलिसी फ्रेमवर्क, इनक्यूबेशन सेंटर, शिक्षा, अनुसंधान एवं उद्योग के बीच प्रौद्योगिकियों का व्यावसायीकरण करने के लिए काम जरूरी है। सीआईआई चंडीगढ़ काउंसिल के पूर्व चेयरमैन डा. दिनेश दुआ ने कहा कि चंडीगढ़ एक आधुनिक प्रगतिशील शहर के सभी मानदंडों पर अपने आधुनिक बुनियादी ढांचे, अपने नागरिकों के लिए सर्वोत्तम सुविधाओं के साथ खरा उतर रहा है और अब सीआईआई और यूटी प्रशासन स्मार्ट सिटी बनाने के लिए एक साथ काम कर रहे हैं।
पूर्व सांसद सत्य पाल जैन, भाजपा पंजाब प्रमुख संजय टंडन, यूटी गृह सचिव अनुराग अग्रवाल, राज्यपाल के सलाहकार परिमल राय, महापौर आशा कुमारी जसवाल, ब्रिटिश उप उच्चायुक्त डेविड लेलोइट, इस अवसर पर मौजूद गणमान्य व्यक्तियों में शामिल थे।
इस दौरान गवर्नर वीपी बदनौर ने सीआईआई इंडियन वूमन नेटवर्क के चंडीगढ़ ट्राईसिटी चैप्टर को लॉंच किया जिसमें डा. रितेंद्र मोहन को आईडब्ल्यूएन चंडीगढ़ ट्राईसिटी चैप्टर की पहली चेयरमैन चुना गया। डा. रितेंद्र मोहन गवर्नमेंट कॉलेज रोपड़ की पूर्व पिं्रसीपल हैं होने केसाथ ही ट्रेनर, काउंसलर व रिसोर्स पर्सन हैं। उन्होंने कहा कि वह दृढ़ता से मानती है कि प्रत्येक व्यक्ति पावरहाउस है। आईडब्ल्यूएन ने महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए उनको करियर के माध्यम से एक साथ लाने की इच्छा बताई। उन्होंने कहा कि महिलाएं साथ जुड़ें और उन्हें प्रशिक्षण, सलाह और सहयोग के माध्यम से अपनी क्षमताओं में सबसे बढ़ोतरी करने के लिए सक्षम किया जाएगा जिससे सभी पेशेवर महिलाएं लाभान्वित हो सकें। नेटवर्क वर्किंग वुमन, उद्यमियों के लिए और उन महिलाओं के लिए जो अपने करियर में वापस जाना चाहते हैं कैरियर के विभिन्न चरणों में उनके साथ काम करता है। उन्होंने बताया कि आईडब्ल्यूएन के भारत भर में १७०० से अधिक सदस्य है। 
रोहित ग्रोवर बने सीआईआई चंडीगढ़ स्टेट काउंसिल के अध्यक्ष ,क्वार्क इंडिया की सीनियर डायरेक्टर सोफी ज़ाहूर बनी सीआईआई चंडीगढ़ काउंसिल की वाईस चेयरमैन 
जेआरईडब्ल्यू समूह के  कॉमर्शियल निदेशक रोहित ग्रोवर को सीआईआई चंडीगढ़ काउंसिल के नए अध्यक्ष के रूप में चुना गया। जेआरईडब्ल्यू इंजीनियरिंग १९७३ में चंडीगढ़ की एक छोटी कंपनी के रूप में शुरू हुई और आज १५० करोड़ रूपये की कंपनी बन गई है। 4 रणनीतिक स्थानों पर एनसीआर सहित सुविधाएं देती है। भारत में उच्च प्रतिष्ठित इन्फ्रास्ट्रक्चर बहुराष्ट्रीय कंपनियों के लिए एकमात्र आपूर्तिकर्ता होने के अलावा, जर्मनी, ब्रिटेन और ब्राजील में सटीक इंजीनियरिंग उत्पादों के निर्यात में कंपनी का गौरव है। रोहित ग्रोवर पंजाब विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ के पूर्व छात्र हैं, जिन्होंने वाणिज्य मेंं स्नातक और मास्टर्स इन फाइनेंस की पढ़ाई की। स्टील फैब्रिकेशन और मशीनिंग के कारोबार में आने से पहले उन्होंने एक प्रतिष्ठित निजी क्षेत्र के बैंक के साथ प्रबंधन प्रशिक्षु के रूप में अपना कैरियर शुरू किया।
सीआईआई चंडीगढ़ परिषद के नए उपाध्यक्ष सोफी ज़हर क्वार्कक्सप्रेस पब्लिशिंग आरएंडडी (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड में सीनियर डायरेक्टर : एचआर एंड ऑपरेशंस हैं। सोफी ज़ूहूर ने क्वार्क के साथ १४ साल काम करने का अनुभव है। प्रतिभा अधिग्रहण और प्रोफेश्नल विकास कार्यक्रम चलाने में कई सालों का अनुभव है जिसके परिणामस्वरूप कर्मचारियों की प्रतिभा अपग्रेड हुई। रणनीतिक अवसरों के जरिए संगठनात्मक पुनर्निर्माण के कार्य के संचालन और कार्यान्वयन में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
         

Comments