बीज से लेकर बाज़ार तक स्थापित करना सरकार का मकसद : मोदी

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कृषि क्षेत्र में सिंचाई समेत बुनियादी ढांचा पर जोर देते हुए कहा कि सरकार किसानों के लिए बीज से लेकर बाजार तक व्यवस्था विकसित करने में लगी है और इससे करोड़ों किसानों की जिंदगी में एक नया बदलाव आएगा। मोदी ने यहां 71वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करते हुए कहा कि प्राकृतिक आपदाओं के बावजूद देश के किसानों ने फसल के साथ साथ दाल का रिकार्ड उत्पादन किया है। उन्होंने कहा, ‘‘सरकार बुनियादी ढांचा को बढ़ावा दे रही है। किसान संपदा योजना लागू की गई है जिसके जरिए उन व्यवस्थाओं का निर्माण किया जाएगा जो बीज से बाजार तक किसानों को लाभ पहुंचाएगी और उनके लिए व्यवस्थाएं विकसित करेगी। इसके जरिए हम करोड़ों किसानों की जिंदगी में एक नया बदलाव लाने में सफल होंगे।’’ 

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘किसान को बीज से बाजार तक जब तक व्यवस्था नहीं दी जाती, हमारे किसान के भाग्य को हम नहीं बदल सकते हैं। और इसलिए उसके लिए बुनियादी ढांचा चाहिए, उसके लिए आपूर्ति श्रृंखला चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हर साल लाखों-करोड़ों रुपयों की हमारी सब्जी, फल और फसल बर्बाद हो जाती है और इसलिए उसको बदलने के लिए प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को बढ़ावा दिया गया ताकि खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में दुनिया हमारे साथ जुड़े।’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं के बावजूद देश के किसान फसल के साथ दाल का रिकार्ड उत्पादन कर रहे हैं। ‘‘दाल के रिकार्ड उत्पादन से किसानों ने गरीब को पौष्टिक आहार देने का काम किया। साथ ही सरकार ने ऐतिहासिक रूप से 16 लाख टन दाल की खरीद की।’’ उल्लेखनीय है कि कृषि मंत्रालय के तीसरे अग्रिम अनुमान के अनुसार फसल वर्ष 2016-17 में खाद्यान का रिकार्ड 27.34 करोड़ टन उत्पादन रहने का अनुमान है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि तीन साल पहले सिर्फ सवा तीन करोड़ किसान इस योजना से जुड़े थे और यह संख्या अब पौने छह करोड़ तक पहुंच गई है। सिंचाई के महत्व को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि किसानों को अगर पानी मिले तो मिट्टी से सोना पैदा करने की ताकत रखते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘इसीलिए किसान को पानी पहुंचाने के लिए मैंने पिछली बार लाल किले से जिन योजनाओं के बारे में कहा था, उन योजानाओं में से 21 हम पूरा कर चुके हैं और बाकी 50 योजनाएं आने वाले कुछ समय में पूर्ण हो जाएंगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कुल 99 योजनाओं का मैंने संकल्प लिया है। 2019 के पहले उन 99 बड़ी-बडी योजनाएं को पूरा करके, किसान के खेत तक पानी पहुंचाने का काम हम पूरा करेंगे।’’

Comments