1. ख़बरें

खुशखबरी ! ग्रामीण उजाला योजना के तहत 10-10 रुपये प्रति बल्ब की रेट पर ले सकेंगे LED Bulb

Gramin Ujala Yojana

Gramin Ujala Yojana

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी समेत देश के 5 शहरों के ग्रामीण इलाकों से ग्रामीण उजाला योजना (Gramin Ujala Yojana) नाम से एक नई स्कीम शुरू होने वाली है. खबरों के मुताबिक, इस योजना को पब्लिक सेक्टर की एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड. (EESL) अगले महीने से शुरू करेगी. इस योजना को एनर्जी एफिशिएंसी को गांवों में ले जाने और बिजली बिल में कमी के जरिये वहां रहने वाले लोगों की बचत बढ़ाने के मकसद से शुरू किया जा रहा है.

10-10 रुपये प्रति बल्ब की रेट पर ले सकेंगे LED Bulb

खबरों के मुताबिक, Gramin Ujala Yojana को फेज वाइज लागू किया जाएगा. इस योजना के तहत गांवों में रहने वाले प्रत्येक परिवार को 10-10 रुपये प्रति बल्ब की दर से तीन से चार एलईडी बल्ब दिया जाएगा. Gramin Ujala Yojana नाम से इस कार्यक्रम को जनवरी 2021 के दूसरे सप्ताह से शुरू किया जाएगा. इस योजना के तहत लगभग 15 से 20 करोड़ ग्रामीण परिवार के बीच 60 करोड़ एलईडी बल्ब बांटने की योजना है.

अप्रैल तक पूरे देश में लागू होगी Gramin Ujala स्कीम

गौरतलब है कि शुरू में इसे उत्तर प्रदेश के वाराणसी (प्रधानमंत्री का संसदीय क्षेत्र), बिहार के आरा, महाराष्ट्र के नागपुर, गुजरात के वडनगर और आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा के ग्रामीण क्षेत्रों में लागू किया जाएगा. इसके बाद आगामी तीन महीने यानी अप्रैल तक इस योजना को पूरे देश में लागू करने की योजना है.

केंद्र या राज्यों से नहीं ली जाएगी कोई सब्सिडी

Gramin Ujala Yojana से जहां लोगों की बिजली बिल के लागत में कमी आएगी वहीं एक बेहतर जीवन को बढ़ावा मिलेगा. साथ ही एलईडी बल्ब की मांग बढ़ने से निवेश भी बढ़ेगा. खबरों के मुताबिक, इस कार्यक्रम के लिए केंद्र या राज्यों से कोई सब्सिडी नहीं ली जाएगी और जो भी खर्च होगा, वह पब्लिक सेक्टर की एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (ईईएसएल) स्वयं करेगी.

English Summary: Good News ! Under Gramin Ujala Yojana , LED Bulb will be able to be charged at a rate of Rs 10-10 per bulb

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News