MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

e-Charak App से करें औषधीय पौधों की खरीद-बेच, साथ ही खेती पर पाएं 75% सब्सिडी

क्या आप औषधीय पौधों की खेती पर सब्सिडी प्राप्त करने के साथ इसकी खरीद-बेच करना चाहते हैं, तो आपके लिए भारत सरकार एक सुनहरा मौका दे रही है. जहां किसान 75% की सब्सिडी प्राप्त कर मेडिसिनल पौधों की लेन-देन चुटकियों में कर सकते हैं.

रुक्मणी चौरसिया

कोरोना के बाद औषधीय पौधों (Medicinal Plants) की मांग में तेज़ी देखने को मिली है. ऐसे में आयुष मंत्रालय (Ayush Ministry) की भारत सरकार राष्ट्रीय आयुष मिशन (NAM) की केंद्र प्रायोजित योजना शुरू की जा चुकी है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि NAM योजना के तहत औषधीय पौधों की खेती पर सब्सिडी (Subsidy on cultivation of medicinal plants) प्रदान की जाती है.

एनएएम योजना औषधीय पौधों के घटक (Components of NAM Scheme Medicinal Plants)

  • किसान की भूमि पर प्राथमिकता वाले औषधीय पौधों की खेती.

  • गुणवत्तापूर्ण रोपण सामग्री के निर्माण एवं आपूर्ति के लिए बैकवर्ड लिंकेज वाली नर्सरी की स्थापना.

  • फारवर्ड लिंकेज के साथ फसलोत्तर प्रबंधन.

  • प्राथमिक प्रसंस्करण, विपणन अवसंरचना आदि.

औषधीय पौधों की खेती पर सब्सिडी (Subsidy on cultivation of medicinal plants)

आज कल हर कोई अपने घर से लेकर खेत तक में औषधिय पौधों की खेती (Medicinal Plant Farming) करने में रूचि रखता है. इसी संदर्भ में NAM योजना के तहत 140 औषधीय पौधों की खेती के लिए विशिष्ट पौधों की प्रजातियों की खेती लागत का 30%, 50% और 75% की दर से सब्सिडी प्रदान की जाती है.

करीब 60 हज़ार किसानों ने उठाया लाभ (About 60 thousand farmers took advantage)

आयुष मंत्री सर्बानंद (Ayush Minister Sarbananda) के अनुसार, आयुष मंत्रालय ने अब तक 140 प्राथमिकता वाले औषधीय पौधों में से 84 औषधीय पौधों की किस्मों की खेती (Cultivation of medicinal plant species) के लिए 59,350 किसानों का समर्थन किया है. बता दें कि पूरे देश में 56,305 हेक्टेयर क्षेत्र को कवर किया गया है.

वहीं मंत्री एम.वी. ने कहा कि राष्ट्रीय आयुष मिशन (NAM) की केंद्र प्रायोजित योजना के औषधीय पौधे घटक के तहत, मंत्रालय ने 2015-16 से 2020 तक पूरे देश में औषधीय पौधों (Medicinal Plants) की खेती के लिए किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए सब्सिडी के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान की है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले पांच वर्षों के दौरान, आयुष मंत्रालय ने औषधीय पौधों की खेती के लिए 11,773.830 लाख रुपये प्रदान किए हैं.

औषधीय पौधों की कैसे करें खरीद-बेच (How to buy and sell medicinal plants)

इसके अलावा, औषधीय पौधों की खरीद-बेच (Sale and purchase of medicinal plants) के लिए भी सरकार ने ई-चरक ऐप (e-Charak App) को लॉन्च किया है. e-Charak App औषधीय पौधों के क्षेत्र के खरीदारों और विक्रेताओं के लिए एक दूसरे के साथ बातचीत करने के लिए एक आभासी बाजार स्थान के रूप में कार्य करता है.

इसके अलावा यह औषधीय पौधों के क्षेत्र से संबंधित उत्पादों और सेवाओं को प्रदर्शित करने के लिए वर्चुअल शोकेस के रूप में कार्य करता है. साथ ही यह औषधीय पौधों के क्षेत्र से संबंधित प्रौद्योगिकियों, बाजार की जानकारी और अन्य संसाधनों के ज्ञान भंडार के रूप में कार्य करता है.

English Summary: Get 75% subsidy on cultivation of medicinal plants, also know how to buy and sell it Published on: 24 March 2022, 05:02 PM IST

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News