News

उत्तर प्रदेश में गन्ने पर लागू होगी एफआरपी!

केन्द्र सरकार ने यूपी सरकार को पत्र लिखकर कहा है कि वह गन्ने पर स्टेट एडमिनिस्ट्रेटिव प्राइस यानी एसएपी खत्म करें और सिर्फ एफआरपी लागू करें। इस खबर के बाद चीनी स्टॉक्स में खासी तेजी देखने को मिल रहे हैं। सीएनबीसी-आवाज़ को मिली जानकारी के मुताबिक केंद्र ने यूपी सरकार को एसएपी यानि स्टेट एडमिनिस्ट्रेटिव प्राइस खत्म करने को कहा है। केंद्र ने एफआरए और एसएपी में अंतर के चलते यूपी सरकार को ये पत्र लिखा है।

बता दें कि थोक बाजार में शुगर की कीमत 50 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ी है। एक्सपायरी के दिन एनसीडीईएक्स जुलाई वायदा में अपर सर्किट लगा है। गन्ने के मौजूदा भाव की बात करें तो इसका एसएपी 305 रुपए प्रति क्विंटल और एफआरए 255 रुपए प्रति क्विटंल है।गौरतलब है कि चीनी में जोरदार तेजी आई है और इसका दाम दो महीने के ऊपरी स्तर पर चला गया है। दिल्ली में चीनी 4200 रुपए के पार चली गई है। दरअसल इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ने के बाद से मिलों ने चीनी के दाम बढ़ा दिए हैं और पिछले सिर्फ 1 हफ्ते में चीनी का दाम करीब 200 रुपए उछल गया है। फिलहाल यूपी और महाराष्ट्र में मिलें 3800 रुपए के ऊपर चीनी बेच रही हैं।



English Summary: FRP will be applicable to sugarcane in Uttar Pradesh!

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in