किसानों को ऐसे मिलेगा कृषि यंत्रो पर अनुदान

किसानों की आयकर को बढ़ाने के लिए वैसे तो हर कोई प्रयास कर रहा है। फिर चाहे सरकारी तंत्र हो या फिर निजी क्षेत्र की कंपनियां सभी किसानों की आय को बढ़ाने के लिए प्रयास कर रहे हैं। लेकिन किसानों की आय बढ़ाने के लिए जरुरी है उनके पास आधुनिक कृषि यंत्रों का होना। जो कृषि कंपनियां अच्छे कृषि यन्त्र बना रही हैं उनके उत्पादों की कीमत अधिक होने की वजह से किसान उनको आसानी से नहीं खरीद पाता है, क्योंकि जब भी किसान उस कृषि यंत्र को खरीदने की सोचता है तो उससे पहले अपनी जेब देखता है। इन बड़ी कृषि मशीनों पर सरकार की ओर से अनुदान भी दिया जा रहा है, ताकि किसान अच्छे कृषि यंत्रों को आसानी से खरीद सकें। अधिकाशं किसान इस बात से अनभिज्ञ है कि कई मशीनों पर सरकार द्वारा अनुदान दिया जा रहा है जिन किसानों को यह बात पता है वे यह नहीं जानते की उन्हें किससे संपर्क करना है। फिलहाल इसके दो तरीके हैं जिससे किसानों को कृषि मशीनरी पर अनुदान की पूरी जानकारी उपलब्ध हो सकती है।

सरकारी तरीका:

यदि कोई किसान नया कृषि यन्त्र खरीदना चाहता है तो वो सबसे पहले यह सुनिश्चित कर ले कि उसको किस कंपनी का कृषि यन्त्र खरीदना है। उसके बाद किसान उस कृषि यंत्र पर अनुदान की जानकारी के लिए अपने जिले या ब्लॉक स्तर के कृषि कार्यालय पर संपर्क करे। वहां से अनुदान की पूरी प्रक्रिया को समझे। उसके बाद ही उस कृषि यंत्र को खरीदे। यदि कोई भी कृषि अधिकारी जानकारी देने में जरा भी आनाकानी करता है तो इसके लिए जिलास्तर पर कृषि अधिकारियों से मुलाकात कर किसान अपनी समस्या बता सकते हैं। किसानों को कृषि यंत्रों के विषय में पूरी जानकारी जिला और ब्लॉक स्तर कृषि कार्यालय पर आसानी से मिल जाएगी।

डीलर द्वारा जानकारी : 

यदि किसान किसी भी यन्त्र को खरीदने की योजना बना रहा है इसके लिए वो किसी अधिकृत कृषि यंत्र डीलर से संपर्क कर कृषि यंत्रं खरीद सकता है। इससे किसान को फायदा होगा। सरकार द्वारा  कृषि यंत्रों पर दी जाने वाली अनुदान राशी के विषय में किसान को सही जानकारी उस डीलर के पास से  मिलेगी। दूसरा वह उत्पाद जो किसान खरीद रहा है। वह गुणवत्ता वाला होगा और उत्पाद की सही जानकारी के साथ लम्बे समय तक उसकी सर्विस की वॉरंटी भी मिलेगी। 

अनुदान प्राप्त कृषि यंत्र: 

वैसे तो लगभग सभी कृषि यंत्रों पर सरकार द्वारा सब्सिडी दी जाती है लेकिन यह राज्य सरकार पर भी निर्भर करता है कि वो किन कृषि यंत्रों पर सब्सिडी दे रही है। किसान सरकार द्वारा मैनुअल स्प्रेयर्स, पॉवर नैपसेक स्पे्रयर्स, मल्टीक्राप प्लांटर, सीडड्रिल, रोटावेटर, जीरोटिल मल्टीक्रॉप प्लांटर, पंपसेट, मल्टीक्रॉप थ्रेसर, रिज फैरो प्लांटर, ट्रैक्टर माऊंड स्पेयर्स, स्प्रिंकलर सेट, बखारी, एचडीपीई पाइप, पीवीसी पाइप, एचडीपीई लैमिनेटेड पाइप, बड़े तिरपाल, छोटा तिरपाल जैसे कृषि यंत्रों पर अनुदान पा सकते हैं।

सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी:

 सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी राज्य सरकारों पर निर्भर करती है, क्योंकि हर एक राज्य के कृषि विभाग की अलग योजना है जिसके हिसाब से अनुदान दिया जाता है। वैसे ज्यादातर राज्यों में 30 प्रतिशत से 50 प्रतिशत का अनुदान कृषि यंत्रों पर दिया जाता है।

 

कृषि जागरण मासिक पत्रिका, जनवरी माह

नई दिल्ली

 

 

Comments