News

पढ़ाई करने अमेरिका जाएगा किसान का बेटा, CBSE 12th में पाया 98.2%

Anurag

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 13 जुलाई को 12वीं की परीक्षा के परिणाम घोषित किए थे. इस परीक्षा में उत्तर प्रदेश के लखीमपुर के एक गांव के अनुराग तिवारी ने कमाल कर दिया है. किसान के इस बेटे का सपना अब अमेरिका की टॉप यूनिवर्सिटी में दाखिला लेना है.देश में किसानों के कमाल करने की खबरें आय दिन सामने आती रहती हैं. अकसर हमें यह देखने या सुनने को मिलता है कि किसान अपने नई सोच और प्रयोग से आगे बढ़ रहे हैं. वहीं मेहनत और कमाल करने में किसान के बेटे भी इन दिनों उनसे कम नही हैं. किसान के बेटे भी खेती के साथ-साथ शिक्षा  में भी अपना दम-खम दिखाने लगे हैं. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर जिले के सरसन गांव के किसान के बेटे ने सीबीएसई बोर्ड की 12वीं की परीक्षा में 98.2 प्रतिशत अंक हासिल किया है. इस किसान के बेटे ने सिर्फ गांव में ही नहीं बल्कि पूरे देश में परचल फहराया है. सीबीएसी परीक्षा में सफलता हासिल करने वाले इस किसान पुत्र का नाम अनुराग तिवारी है.

अमेरिका के Ivy League University में लेंगे दाखिला

परीक्षा में अच्छी अंको (98.2 प्रतिशत अंको) से पास होने के बाद, अनुराग अपने मनपसंद अमेरिका के Ivy League University में दाखिला लेना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि इस यूनिवर्सिटी में अब उन्हें फुल स्कॉलरशिप पर दाखिला मिलेगा. वहीं उन्हें कॉर्नेल यूनिवर्सिटी में चुना गया है, जहां वह अर्थशास्त्र में उच्च अध्ययन कर सकेंगे.

12वीं में उनके द्वारा लाए गये मार्क्स

सीबीएसई द्वारा 12वीं की परिक्षा में घोषित परिणाम के अनुसार 18 साल के छात्र अनुराग ने सभी विषयों में उत्तीर्ण अंक प्राप्त किए हैं. अनुराग के द्वारा परिक्षा में सभी विषयों में लाए गए अंक कुछ इस प्रकार है अर्थशास्त्र और इतिहास में 100 अंक, गणित में 95 अंक, अंग्रेजी में 97 अंक, राजनीति विज्ञान में 99 अंक हासिल किए हैं. अनुराग ने सिर्फ सीबीएसई के रिजल्ट में ही नहीं बल्कि उसके साथ-साथ Scholastic Assessment Test (SAT) में भी 1370 नंबर हासिल किए हैं. इस टेस्ट का आयोजन यूएस की मुख्य यूनिवर्सिटी में दाखिला लेने के लिए दिसंबर 2019 में करवाया गया था. दोनो ही रिजल्ट आने के बाद अनुराग काफी ख़ुश हैं.

अनुराग को फिलहाल मुख्य रूप से दिसंबर में वाइस प्रोवोस्ट फॉर एनरोलमेंट की ओर से मिले पत्र में Cornell University  में दाखिले की अनुमति मिली है. बता दें कि इस वर्ष कोरोना वायरस महामारी की वजह से पूरे देश भर में सीबीएसई के बचे हुए एग्जाम को पूरी तरह से रद्द कर दिए गए थे. इस बार इन परिक्षाओं का रिजल्ट असेसमेंट के आधार पर दिया गया था. वहीं इस बार बोर्ड के द्वारा इस बार 12वीं के टॉपर्स की लिस्ट अलग से जारी नहीं की. बता दें कि सीबीएसई बोर्ड की 12वीं की परीक्षा का रिजल्ट 13 जुलाई को घोषित किया गया था जिसमें लखनऊ की छात्रा दिव्यांशी ने 600 में 600 नंबर पाकर प्रदेश का नाम रौशन किया था.



English Summary: Farmers son got 98.2% marks in CBSE 12th, got admission in America to study further

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in