1. ख़बरें

किसान ‘फार्मर फर्स्ट’ कार्यक्रम से जुड़कर अपनी आवाज को करें बुलंद

Farmer First Program

पिछले 25 वर्षों से निर्बाध रूप से भारतीय किसानों की आवाज बनकर ‘कृषि जागरण किसानों के साथ खड़ा है. कृषि जागरण का हमेशा से यही उद्देश्य रहा है कि देश के किसान समृद्ध और सशक्त बनें. इसके लिए कृषि जागरण नित नए आयाम को जोड़ रहा है. कृषि जागरण, जून माह से ‘फार्मर दा ब्रांड’ अभियान देशभर में चलाया हुआ है. जिसमें अलग-अलग राज्यों के प्रगतिशील किसानों को किसानों से रूबरू करवाया जा रहा है.

गौरतलब है कि अभीतक ‘कृषि जागरण’ के ‘फार्मर दा ब्रांड’ अभियान से 350 से ज्यादा प्रगतिशील किसान जुड़कर अपने उत्पादों की गुणवत्ता के बारे में लाखों किसानों के बीच चर्चा कर चुके हैं. ‘कृषि जागरण’ का ऐसा मानना है कि अगर किसान अपने उत्पादों की गुणवत्ता में सुधार करने के अलावा खुद की ब्रांडिंग करते हैं तो वो अपनी उपज को उचित कीमत पर बेच सकते हैं.

‘कृषि जागरण’ के इस अभियान का किसानों पर व्यापक स्तर पर प्रभाव भी पड़ा है. मौजूदा वक्त में बहुत सारे ऐसे किसान हैं, जिन्होंने ‘फार्मर दा ब्रांड’ अभियान से जुड़कर अपने ब्रांड का प्रमोशन किया और अब उनकी उपज की सही कीमत मिल रही है. इसके अलावा उनकी उपज की मांग वैश्विक स्तर पर होने लगी है.

इसी क्रम में ‘कृषि जागरण’ किसानों के लिए 23 दिसंबर, 2020 से ‘फार्मर फर्स्ट’ कार्यक्रम शुरू करने जा रहा है. इस कार्यक्रम का मुख्य मकसद देश के सभी किसानों की आवाज को संबल प्रदान करने के अलावा कृषि जागरण के सभी सोशल प्लेटफॉर्म के जरिए देशभर के सभी किसानों तक उनकी बातों और समस्याओं को पहुंचाना है.

‘फार्मर फर्स्ट’ किसानों के लिए विशेष क्यों है?

‘फार्मर फर्स्ट’ इकलौता ऐसा कार्यक्रम है जिससे ज्यादा से ज्यादा किसान जुड़कर अपनी हर एक बात को लाखों किसानों के बीच में रखने के अलावा अपनी बातों को सरकार तक पहुंचा सकते हैं. इसके अलावा अपने मौलिक विचारों से लाखों किसानों का ज्ञानवर्धन कर सकते हैं.

अधिक जानकारी के लिए यहां संपर्क करें- https://www.facebook.com/kerala.krishijagran

English Summary: Farmers can raise their voice by joining Farmer First program

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News