1. ख़बरें

भारत से व्यापार बंद करना पड़ा भारी, पाकिस्तान में 30 रूपए का एक अंडा, 104 रूपए किलो चीनी

सिप्पू कुमार
सिप्पू कुमार

2020 में पाकिस्तान के साथ खराब रहे भारत के संबंध

जब से भारत ने पाकिस्तान के साथ व्यापार बंद किया है तबसे वहां के हालात खराब होते जा रहे हैं. पड़ोसी देश में इन दिनों महंगाई सातवें आसमान पर जा चुकी है. महंगाई का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वहां एक अंडा 30 रुपए की कीमत में मिल रहा है, जबकि चीनी के भाव 104 रुपए किलो हो चुके हैं.

पाकिस्तान के अखबार द डॉन की एक खबर के मुताबिक, भारत से व्यापार बंद करने के बाद वहां कोरोना काल में लोगों को खान-पान में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. गौरलतब है कि इस साल पड़ोसी देश पाकिस्तान में गेहूं की कीमत में भी उछाल आया है. फिलहाल वहां 60 रुपए किलो गेहूं की खरीददारी हो रही है.

भारत ने छीना था मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा

बता दें पलुवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया था. जिसके कारण पाकिस्तान को मिल रहे कई उत्पादों पर तरजीह को समाप्त कर दिया गया था. इसी तरह इस साल दोनो ही देशों के मध्य राजनीतिक लड़ाईयां भी खूब हुई. पुलवामा के जवाब में बालाकोट करना पाकिस्तान को रास नहीं आया और उसने भी अपनी तरफ से भारत-पाक व्यापार पर बंदिशे लगाई.

 

2020 में पाकिस्तान के साथ खराब रहे भारत के संबंध

इस साल भारत पाकिस्तान के संबंध सुधरने की जगह खराब हुए हैं. पाकिस्तान पिछले साल अनुच्छेद 370 को जम्मू-कश्मीर से हटाने पर अब तक निराश है. इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त को निष्कासित किए जाने के बाद दोनो देशों के व्यापार पर फर्क पड़ा है.

ध्यान रहे कि भारत-पाकिस्तान के मध्य कई चीज़ों का व्यापार होता है. पाकिस्तान हर साल भारत से बड़ी संख्या में सब्जियां, रसायन उत्पाद, कपड़े, दूध, नारियल और खाद्य सामग्री खरीदता है.

आटे-चीनी के दाम घटाने को लेकर हो रही है बैठकें

फिलहाल पाकिस्तान में महंगाई को कम करने के लिए मंत्रियों की बैठके हो रही है. वहां इस बात पर गौर किया जा रहा है कि क्या भारत के साथ व्यापार पॉलिसी को लचीला बनाने से कीमतें कुछ होंगी.

English Summary: Economy faltering in pakistan after india close business Egg prices spike

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News