दुबई के विज्ञानिकों ने खोजा किसानों के लिए ख़ास उपकरण

सऊदी अरब के वैज्ञानिकों ने एक ऐसा उपकरण खोजा है जिससे हम हवा से पानी को सोख सकेगें. यह खोज बंजर ज़मीनो में एक सुनहरी किरण का रूप ले सकती है. हमारे पुरे विश्व में पृथ्वी के वायुमंडल की हवा में करीब 13 हज़ार अरब टन पानी इकठ्ठा होता है  और इस पानी को हासिल करने के लिए कई महंगे उपकरणों की खोज की गयी, पर कोई भी सफल नहीं रहा और सब प्रशिक्षण असफल रहे.

सऊदी अरब की किंग अब्दुल्ला यूनिवर्सिटी ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (केएयूएसटी) द्वारा एक नया उपकरण खोजा है. इसेनसस्ता ,स्थिर, नमक और कैल्शियम क्लोराइड आदि का प्रयोग कर बनाया गया है. क्योंकि कैल्शियम क्लोराइड में पानी को सोखने की बहुत क्षमता होती है, पर दोबारा इसे ठोस रूप से पानी में बदलना बहुत मुश्किल है.  जो कि हमारे आस पास के वातावरण से पानी को सोख लेगा. जिस से वह पानी के तालाब में बदल जाएगा.

इस खोज के द्वारा हमारे देश के किसानों को पानी की कमी से निजात मिलेगा और वह बिना किसी पानी की कटौती के खेती कर सकेंगे, देश को खेती के क्षेत्र में आगे बढ़ा सकेंगे।  क्योंकि हमारे देश में पानी की मार से जूझ रहे लाखों किसानों को इस खोज से काफी राहत मिलेगी.

ऐसी ही ख़ास ख़बरों की जानकारियों को पाने के लिए आप हमारे वेबसाइट पर क्लिक करे -

मनीशा शर्मा, कृषि जागरण

Comments