रूरल सम्मिट में सामाजिक विकास के लिए 4 पी पर हुई चर्चा

दिल्ली के इंडियन हैबिटैट सेंटर में मार्ट रूरल द्वारा आयोजित किए गए रूरल सम्मिट कार्यक्रम में ग्रामीण क्षेत्रों के विकास को लेकर चर्चा की गई| मार्ट के फाउंडर और सीईओ प्रदीप कश्यप और सुनील भास्करण, वाईस प्रेसिडेंट कॉर्पोरेट सर्विस, टाटा स्टील ने दीप प्रवजल्लित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया| कार्यक्रम में पीपल पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपीपी) की सीमाओं पर पीपीपीपी बिज़नेस मॉडल पर चर्चा की गई | इसके अलावा पांच सेशन का आयोजन  किया गया| इन सेशन में में निजी और सरकारी कंपनियों द्वारा गैर-सरकारी संस्थाओं के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रो के लिए किये जा रहे कार्यक्रमों वार्ता की गयी|

निजी और सरकारी कंपनियों द्वारा गैर सरकारी संस्थाओं के साथ साझेदारी को ध्यान में रखकर इसकी सीमाओं को चर्चा की गई| कार्यक्रम में हीरो मोटोकोर्प की ओर से दानिश सिद्दीकी, मार्केर्टिंग हेड रूरल,  यस बैंक की ओर से अजय देसाईम सीनियर प्रेसिडेंट यस बैंक, अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन के कंट्री डायरेक्टर निशांत पाण्डेय, ओस्सियन एग्रो के सीईओ संतोष ओस्तवाल और टाटा की ओर से सुनील भास्करण ने भाग लिया| इस मौके पर अरुण मायरा, पूर्व मेम्बर, प्लानिंग कमीशन कहा की इस सरकार को इस तरह की साझेदारी के लिए आगे आना चाहिए| ताकि इसमें और सुधार हो सके| कैसे निजी और सरकारी संस्थाए एक साथ इस मुहीम में आगे आ सकती है इस पर पैनल डिस्कशन किया गया| चर्चा के बाद इस तरह के कार्यक्रम डेलिगेटस द्वारा बड़े स्तर पर करने का आह्वान किया गया| कार्यक्रम के अंत में अरुण  मायरा ने पीपल पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में अच्छा कार्य करने वाली कुछ संस्थाओ और व्यक्तियों को सम्मानित किया|   

Comments