News

चाय बागान श्रमिकों को डिजिटल भुगतान

भारत सरकार द्वारा 08.11.2016 को विमुद्रीकरण की अधिसूचना के बाद, चाय बोर्ड ने चाय बागान श्रमिकों के आसान भुगतान को सुनिश्चित करने, बैंक खाते खोलने और श्रमिकों को डिजिटल भुगतान प्रणाली के उपयोग में समर्थ बनाने की दिशा में कई कदम उठाए हैं।पश्चिम बंगाल में चाय बागान श्रमिकों को मजदूरी का भुगतान आसानी से सुनिश्चित करने के लिए, चाय बागान अध्यक्ष ने जिला प्रशासन के बैंक खातों के माध्यम से चाय बागान मालिकों को भुगतान के लिए राज्य सरकार की दिनांक 16.11.16 की अधिसूचना संख्‍या 5881-एफ (वाई) के कार्यान्वयन के लिए पश्‍चिम बंगाल के मुख्‍य सचिव को 23.11.2016 को पत्र लिखा है।  इसके अलावा, चाय बोर्ड अध्‍यक्ष के द्वारा केरल और तमिलनाडु के मुख्य सचिवों को दिनांक 17.11.16 पत्र लिखे गये हैं जिनमें बागान श्रमिकों को भुगतान देने के लिए चाय बागान मालिकों को जिला प्रशासन के किसी भी बैंक खाते में धनराशि जमा करने और निकालने के लिए जिला प्रशासन को निर्देश जारी करने की अपील की गई है।इसके अंतर्गत, बैंकरों और चाय उत्पादकों संघों के साथ चाय बोर्ड के द्वारा 24.11.2016 को कोलकाता और सिलीगुड़ी में बैठकों का आयोजन किया गया।

 06.12.2016 को पश्चिम बंगाल के श्रम आयुक्त को पत्र लिखा गया जिसमें चाय बागानों में अलग-अलग खातों को खोलने के लिए सहयोग करने के लिए संचालन व्‍यापार संघों को सलाह देने के लिए कहा गया है ताकि चाय बागान श्रमिकों को मजदूरी का भुगतान सुचारू रूप से किया जा सके। बोर्ड ने 09.12.2016 को, चाय बागानों के श्रमिकों के लिए अलग-अलग खाते खोलने की सुविधा के लिए चाय उत्‍पादक राज्य सरकारों से अनुरोध किया। चाय बोर्ड क्षेत्रीय कार्यालय बागान प्रबंधनों से अपने श्रमिकों और कर्मचारियों के बैंक खाते खोलने के लिए तत्‍परता के साथ कार्य कर रहे हैं। बोर्ड के द्वारा चाय उत्पादकों संघों को भी मजदूरी के सुचारू रूप से भुगतान के लिए श्रमिकों हेतु अलग-अलग बैंक खाते खोलने की सुविधा की सलाह दी गई है।

चाय बोर्ड के अध्यक्ष श्री संतोष सारंगी ने  चाय बागान श्रमिकों को मजदूरी के भुगतान के मुद्दे पर भारतीय रिजर्व बैंक के मुख्य महाप्रबंधक के साथ चर्चा करके चाय बागान श्रमिकों को मजदूरी का शीघ्र भुगतान सुनिश्चित करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा प्रभावी कदम उठाने का अनुरोध किया है। इसके पश्‍चात, चाय बोर्ड के अधिकारी श्री ए.के.दास  और डीटीडी श्री सुंदरराजन के साथ कोलकाता के क्षेत्रीय निदेशक और भारतीय रिजर्व बैंक के मुख्य महाप्रबंधक की 21.12.2016 को बैठक हुई।

बोर्ड के अधिकारियों ने भारतीय रिजर्व बैंक के अधिकारियों से चाय बागान श्रमिकों को मजदूरी के सुचारू भुगतान के लिए विशेष पहल के साथ उत्‍तर बंगाल में चाय बागानों को सुविधा देने के लिए संबंधित बैंकों के लिए उपयुक्त निर्देश जारी करने, पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी अर्थात दार्जिलिंग, अलीपुरद्वार और कूचबिहार में बकाया मजदूरी और भविष्‍य में भुगतान के लिए चाय उत्‍पादक जिलों में मुद्रा प्रवाह में सुधार के उपाय अपनाने, उद्यान मालिकों के द्वारा मजदूरी को सीधे श्रमिकों के खाते में स्थानांतरित करने के लिए प्रधानमंत्री जन धन योजना (पीएमजेडीवाई) के तहत शीघ्र बैंक खातों को खोलने का अनुरोध किया किया।



English Summary: Digital payment to tea plantation workers

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in