सर्वजीत सामरा सीआईआई के चेयरमैन और विरेन पोपली वाईस चेयरमैन चुने गए

सीआईआई देश की बड़ी संस्थानों में से एक है. यह संस्था इंडस्ट्री एवं सरकार के साथ काम करती है. देश सभी राज्यों में सीआईआई कार्य करता है.  बड़े कृषि राज्य पंजाब में सीआईआई की प्रबंधन कमिटी में बदलाव हुए है. सीआईआई पंजाब स्टेट काउंसिल के लिए वर्ष 2018-19 हेतू कैपिटल स्मॉल फाईनेंस बैंक के प्रबंध निदेशक सर्वजीत सिंह समरा को चेयरमैन चुना गया है. साथ ही महिंद्रा एंड महिंद्रा की स्वराज डिवीजन के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर वीरेन पोपली को वाईस चेयरमैन चुना गया है.

कैपिटल स्मॉल फाईनेंस बैंक के प्रबंध निदेशक तथा प्रिंसिपल प्रमोटर सर्वजीत सिंह समरा मूल रूप से जालंधर के हैं और उन्होंने फाईनेंस एंड मार्केटिंग से एमबीए किया है. आज से 16 साल पहले आरंभ हुए छोटे से लोकल एरिया बैंक को देश का पहला स्मॉल फाईनेंस बैंक कैपिटल फाईनेंस बैंक बनाने का श्रेय समरा को जाता है. एक लोकल एरिया बैंक की विश्वसनीय सेवाओं को देखते हुए कैपिटल लोकल एरिया बैंक को 9 अन्य एंटीटी के साथ मिलकर स्मॉल फाईनेंस बैंक स्थापित करने की 16 सितंबर 2015 में आरबीआई ने सैद्घांतिक मंजूरी दे दी थी. समरा के निरंतर प्रयास, बैंकिंग की व्यापक जानकारी के कारण ही कैपिटल स्मॉल फाईनेंस बैंक लोकल एरिया बैंक से 47 शाखाओं वाले स्मॉल कैपिटल फाईनेंस बैंक में तब्दील हुआ. इसके बाद 53 नई ब्रांच खुली जिसके चलते अब ब्रांच की संख्या 100 पहुंच गई है. बैंक ने पंजाब में अपनी साख बनाई और अब हरियाणा व दिल्ली में विस्तार की तैयारी की जा रही है. बैंक का कुल व्यापार 4450 करोड़ है जो 499000 खाताधारकों को सेवाएं दे रहा है. बैंक का 80 प्रतिशत कारोबार ग्रामीण या अर्धग्रामीण क्षेत्र से है.

वीरेन पोपली महिंद्रा एंड महिंद्रा की स्वराज डिवीजन के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर हें. स्वराज ट्रैक्टर देश मे दूसरे नंबर पर सबसे ज्यादा बिकने वाले ट्रैक्टर हैं. वीरेन को फार्मा, मीडिया, टू व्हीलर से फार्म मशीनरी के क्षेत्र में 24 वर्ष से अधिक का अनुभव है. वीरेन ने नागपुर यूनिवर्सिटी से बैचलर इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग तथा मुंबई के एसपी जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च से मास्टर इन मैनेजमेंट स्टडी की पढ़ाई की है. स्वराज डिवीजन में पद संभालने से पहले वीरेन महिंद्रा टू व्हीलर्स लिमिटेड में चीफ ऑफ ऑपरेशंस रहे हैं. महिंद्र में ज्वाइन करने से पहले उन्होंने 10 साल स्टार इंडिया के साथ तथा 6 साल रैनबैक्सी लैबोरेट्री में अपनी सेवाएं दी हैं. वीरेन को विभिन्न देशों में फार्मास्यूटिकल्स बेचने से लेकर टू व्हीलर्स को लीग से हटकर बनाने का अनुभव है. साथ ही उन्होंने कौन बनेगा करोड़पति कार्यक्रम में भी वे शामिल रहे हैं.  इसके साथ ही देश का पहला गर्ल ब्रांड वीवा उनकी देखरेख में लांच हुआ. वे एक मैनेजमेंट प्रोफेश्नल होने के साथ ही एक क्वालिफाईड स्कूबा ड्राईवर भी हैं. 

 

Comments