News

मांग बढ़ने से बांसमती चावल की कीमत में आया उछाल

बासमती चावल की निर्यात मांग बढ़ने और कम उत्पादन की वजह से इसकी कीमतों में तेजी का रुख बना हुआ है। सोमवार को दिल्ली में बासमती स्टीम चावल का भाव बढ़कर 8500 प्रति क्विंटल दर्ज किया गया जो बीते कारोबारी सत्र के मुकाबले करीब 400 रुपए ज्यादा है, 1121 चावल की कीमतों में भी एकतरफा तेजी देखने को मिली है और इसका भाव भी 8200 रुपए प्रति क्विंटल तक पहुंच गया है।

कम उत्पादन और लगातार बढ़ रही निर्यात मांग की वजह से बासमती चावल की कीमतों में उछाल दर्ज किया जा रहा है। पिछले 3 महीने से बासमती चावल की निर्यात मांग बढ़ी है, जनवरी से मार्च के दौरान हर महीने निर्यात 3.5 लाख टन के करीब रहा है। अप्रैल में भी निर्यात 4 लाख टन के करीब पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा है। जानकारों के मुताबिक ईरान और सऊदी अरब की मांग बढ़ने की वजह से निर्यात में इजाफा हुआ है।

2015-16 सीजन के दौरान बासमती धान उत्पादों को कम भाव मिला था जिस वजह से मौजूदा सीजन 2016-17 के दौरान किसानों से बासमती की खेती घटाई है जिस वजह से इस साल देश में चावल की कीमतों में भारी गिरावट आई है। कम उत्पादन और बेहतर मांग की वजह से इस साल देश में बासमती चावल में एकतरफा तेजी का रुख बना हुआ है।



English Summary: Bansmati rice prices due to rising demand

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in