1. ख़बरें

किसानों के लिए कृषि मंत्री ने लांच किया सीड ट्रेसबिलिटी मोबाइल एप

Union Agriculture and Farmers Welfare Minister Narendra Singh Tomar

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास, पंचायत राज तथा खादय प्रसंस्करण उदयोग मंत्री  नरेंद्र सिंह तोमर ने गुरूवार को राष्ट्रीय बीज निगम द्वारा लाभांश वितरण के अवसर पर सीड ट्रेसबिलिटी मोबाइल एप लांच किया. इस एप के माध्यम से असली बीजों की जानकारी मिलेगी और किसान धोखाधड़ी से बच सकेंगे.

कार्यक्रम में तोमर ने गुण नियंत्रण एवं डीएनए प्रयोगशाला का शुभारंभ भी किया. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि खेती के क्षेत्र में बीज की बड़ी महत्ता है, ऐसे में बीज के क्षेत्र में काम करने वालों की बहुत अहम जवाबदारी होती है.

कृषि मंत्री तोमर को 9 करोड़ रूपए के लाभांश का चेक सौंपा

पूसा स्थित राष्ट्रीय बीज निगम (एनएससी) के मुख्यालय में आयोजित समारोह में अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक विनोद कुमार गौड़ ने भारत सरकार के लिए लगभग नौ करोड़ रूपए के लाभांश का चेक मंत्री तोमर को सौंपा. कार्यक्रम में तोमर ने शंकरन द्वारा संपादित पुस्तक एनएससीस जर्नी इन द सर्विस आफ फार्मर्स नामक पुस्तक का विमोचन किया. इसमें एनएससी की स्थापना से लेकर अब तक की प्रमुख उपलब्धियों को संजोया है. तोमर ने कहा कि व्यक्ति हो या संस्था, दोनों के सफर के स्मरण को संजोना बहुत ही सुखद होता है.

सीड ट्रेसबिलिटी मोबाइल एप साबित होगा मील का पत्थर

तोमर ने कहा कि एनएससी के पास भूमि का काफी बड़ा रकबा है, जिसका अधिकाधिक उपयोग किया जाना चाहिए. उपलब्ध योजनाओं के माध्यम से सफलता प्राप्त कर आगे बढ़ सकते हैं. एनएससी कम दाम पर गुणवत्तायुक्त बीज किसानों को उपलब्ध करा रहा है, यह देश के लिए बड़ा काम है, जिसे आगे बढ़ाया जाना चाहिए. उन्होंने इस दिशा में प्रगति के लिए एक रोडमैप बनाने का सुझाव दिया. तोमर ने कहा कि सीड ट्रेसबिलिटी मोबाइल एप (Seed Traceability Mobile App) मील का पत्थर साबित होगा.

कृषि सिंचाई योजना का लाभ लेने का दिया सुझाव

कार्यक्रम में कृषि राज्य मंत्री परषोत्तम रूपाला ने कहा कि कृषि की शुरूआत बीज से होती है. वैरायटी सीड्स की ज्यादा मात्रा में किसानों को उपलब्धता सस्ते दामों में सुनिश्चित करना चाहिए. उन्होंने एनएससी के फार्मों के लिए प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लाभ लेने का सुझाव दिया.

नई लैब व एप से किसानों को होगा काफी लाभ

कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि खाद्यान्न की आत्मनिर्भरता में किसानों व वैज्ञानिकों के साथ ही एनएससी का भी बड़ा योगदान है. उन्होंने कहा कि नई लैब व एप से किसानों को काफी लाभ होगा.

प्रारंभ में सीएमडी ने एनएससी की गतिविधियां व उपलब्धियां बताईं. एनएससी ने विभिन्न कदम उठाकर दुर्गम व दूरस्थ क्षेत्रों के किसानों को अनाजों, दलहन-तिलहन, चारा, सब्जी बीज आदि की सभी महत्वपूर्ण फसलों के गुणवत्ता बीजों की पर्याप्त मात्रा उपलब्ध करवाने के सरकार के उद्देश्य को पूरा किया है व गुणवत्तापूर्ण बीजों के भरोसेमंद आपूर्तिकर्ता के रूप में अपनी प्रतिष्ठा को कायम किया है. वर्ष 2019-20 में एनएससी की कुल आय 1085.44 करोड़ रू. रही है एवं कर पूर्व लाभ रू. 60.88 करोड़ रहा है.

English Summary: Agriculture Minister launches seed traceability mobile app for farmers

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News