1. ख़बरें

कृषि उन्नति मेला अब 16 मार्च से, किसानों को हायब्रिड बीज से लेकर पशुपालन की मिलेगी जानकारी

भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली में आयोजित होने वाला कृषि उन्नति मेला 16-18 मार्च के मध्य आयोजित हो रहा है। हालांकि इस मेले की तिथि 9-11 मार्च के मध्य निर्धारित की गई थी जिसमें संशोधन किया गय़ा है। संस्थान के संयुक्त निदेशक ( प्रसार) जे.पी शर्मा द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मेले की तिथि को छोड़कर बाकी सारी गतिविधियां पूर्ववत रहेंगी। इसलिए मेले में आप भाग लेकर अधिक से अधिक जानकारी लेकर अच्छा अनुभव प्राप्त कर सकते हैं। इस राष्ट्रीय स्तर मेले में आप भाग लेकर नई तकनीकों के साथ-साथ बेहतर किस्मों की जानकारी ले सकते हैं। पिछले वर्षों में बासमती की नई किस्मों जैसे पूसा-1121,पी.बी 1509 से पूरे भारत में अच्छे उत्पादन के साथ कमाई भी की गई इसका पूरा श्रेय नई दिल्ली स्थित इस संस्थान को जाता है।

मेले के आकर्षण के बिंदु-

  1. फसल उत्पादन की तकनीकों का प्रदर्शन
  2. संस्थान में फसल प्रयोग खेतों पर किसानों का गमन
  3. सब्जी व फल के उत्पादन के लिए किसानों को अधिकतम जानकारी
  4. डेयरी, मधुमक्खीपालन पर संपूर्ण जानकारी
  5. सूक्ष्म सिंचाईं एवं सिंचाईं की अत्याधुनिक तकनीकों से किसानों को अवगत कराना
  6. आईसीएआर संस्थानों एवं निजी कंपनियों द्वारा किसानों को कृषि सूक्ष्म उपकरणों का वितरण
  7. हायब्रिड किस्मों के बीज का वितरण
  8. मुफ्त में पानी एवं मृदा परीक्षण
  9. विभिन्न एजेंसियों द्वारा जैव-उर्वरकों एवं रसायनों का वितरण

मेले में कई प्रकार से स्टॉल पर जाकर किस्मों आदि के साथ-साथ वैज्ञानिकों के साथ संवाद कर अपनी समस्य़ाओं का हल प्राप्त कर सकते हैं। मेले की अधिक जानकारी के लिए आप संस्थान जे.पी.एस डबास प्रभारी कैटेट- 7289865700 पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप संस्थान के टोल फ्री नं 1800-11-8989 पर कॉल कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

प्रत्येक वर्ष आईएआरआई यह मेला रबी सीजन के अंत पर आयोजित करता है। जिसमें एक लाख से अधिक संख्या में किसान एवं उद्दमी हर साल मेले में पहुंचकर अत्याधुनिक सुविधाओं की सीधे-सीधे जानकारी प्राप्त करते हैं। पिछले दो सालों से यह मेला राष्ट्रीय स्तर पर विख्यात हो गया है। इस दौरान इसमें देश के कई कृषि विज्ञान केंद्र एवं कृषि को बेहतर बनाने वाले संस्थान भारी संख्या में भाग लेते हैं।

English Summary: Agriculture Advancement Fair Now, from March 16, farmers will get hybrid seeds from animal husbandry.

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News