MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

कृषि वैज्ञानिकों ने खेतों का किया दौरा, किसानों को दी सरसों में रोग एवं कीटनाशक की जानकारी

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् के पूर्वी अनुसंधान परिसर, पटना द्वारा सरसों का अग्रिम पंक्ति प्रत्यक्षण एवं कृषि आदानों का वितरण किया गया. इस दौरान कृषि वैज्ञानिकों ने भी किसानों के खेतों का दौरा किया और उन्हें रोग एवं कीटनाशक की दी जानकारी.

लोकेश निरवाल
कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों के खेतों का किया दौरा
कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों के खेतों का किया दौरा

पटना के सिमरा तथा चिरौरा ग्राम में 29 फरवरी, 2024 के दिन भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् के पूर्वी अनुसंधान परिसर, पटना द्वारा सरसों का अग्रिम पंक्ति प्रत्यक्षण एवं कृषि आदानों का वितरण किया गया. बता दें कि भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद्, पटना के द्वारा सरसों की फसल (Mustard Crop ) पर चल रहे अग्रिम पंक्ति प्रत्यक्षण (एफएलडी) के अंतर्गत फसल को रोग एवं कीट से सुरक्षा प्रदान करने के लिए संस्थान के वैज्ञानिक डॉ. संजीव कुमार एवं डॉ. अभिषेक कुमार ने किसानो के खेत का भ्रमण किया और साथ ही उन्होंने आवश्यक कृषि आदानों का वितरण किया.

वहीं, इस कार्यक्रम के तहत किसानों को कीटनाशक, खरपतवार नाशक, फफूंद नाशक इत्यादि जैसे कृषि आदानों के साथ-साथ डीजल का भी वितरण किया गया. ऐसे में आइए KVK पटना द्वारा आय़ोजित इस कार्यक्रम के बारे में विस्तार से जानते हैं...

किसानों को मिली कृषि संबंधित उन्नत तकनीकों की जानकारी

सरसों का अग्रिम पंक्ति प्रत्यक्षण संस्थान के निदेशक डॉ. अनुप दास एवं फसल अनुसंधान प्रभाग के प्रमुख तथा एफएलडी (सरसों) परियोजना के प्रधान अन्वेषक डॉ. संजीव कुमार के दिशा-निर्देशन में फुलवारी प्रखंड के सिमरा तथा नौबतपुर प्रखंड के चिरौरा एवं आजाद नगर ग्राम में किसानों के खेतों पर किया जा रहा है.

इसमें संस्थान के वैज्ञानिकों द्वारा समय-समय पर किसानों को कृषि संबंधित उन्नत तकनीकों की जानकारी एवं कृषि आदान-प्रदान किए जाते हैं. ताकि किसान अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार करके खेती-किसानी से अधिक से अधिक लाभ प्राप्त कर सकें. इस परियोजना के लिए बीज एवं कृषि आदानों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने में आई सी.ए.आर के सरसों अनुसंधान निदेशालय, भरतपुर का सराहनीय योगदान रहा है.

ये भी पढ़ें: राष्ट्रीय बागवानी अनुसंधान द्वारा विकसित की गई प्याज और लहसुन की किस्मों से लाभान्वित हो रहे किसान: डॉ. वी आर चौधरी

कार्यक्रम में मौजूद अतिथि

कार्यक्रम में परियोजना के प्रधान अन्वेषक डॉ. संजीव कुमार एवं सह अन्वेषक डॉ. अभिषेक कुमार, वैज्ञानिक के साथ-साथ गाँव के प्रगतिशील किसान कामाख्या नारायण शर्मा, दिवाकर शर्मा, ओम प्रकाश वर्मा एवं मदन मोहन और अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे.

English Summary: Agricultural scientists visited the fields gave information to farmers about diseases and pesticides in mustard Published on: 02 March 2024, 03:06 PM IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News