टंकी वाले गांव की ये टंकियां देखकर आपको हैरानी तो जरूर होगी..

दोस्तों वैसे तो हम हमेशा की आपको कुछ अलग बताते ही रहतें है लेकिन क्या आप जानते है की एक गांव ऐसा भी है जहाँ पर लोगों की पहचान उनके घरों पर बनी पानी की टंकियों से की जाती हो? और आप इन टंकियों को देखकर आप समझ जाएंगे की घर का मालिक क्या करता है. चलिए जानते है इस इनके बारे में. दोस्तों, पंजाब के जालंधर के पास एक गांव है  उप्पला गांव जिसे टंकियों वाला गांव कहा जाता है यहां के हर घर की पहचान उसके घरों पर बनी पानी की अजब गजब और नमूने दार टंकियां से होती है. और यहां के गांव में लोगों की भी पहचान उनके घरों पर बने पानी की टंकियों से होती है.

इन गांव के अलावा कुछ आस पास के गांव में भी अब कुछ ऐसी ही अजीबो गरीब आकर की टंकियां आपको दिख जायेगी. उप्पला गांव के मकानों की छतों पर आम वाटर टैंक नहीं है. बल्कि यहां पर हवाई जहाज, घोड़े, गुलाब, कार, बस आदि अनेक आकारों की टंकियां आपको दिखाई देगी.  अगर किसी की छत पर आर्मी का टैंक दिख जाए तो समझिए उस घर से कोई न कोई सदस्य आर्मी में है. अगर आपको छत पर प्लेन दिखे तो समझिए उस घर के लोग एनआरआई हैं.

ये टंकियां सिर्फ अपने सानो और सौकत के लिए नहीं बनवा रखी है बल्कि घर में रहने वालों की प्यास भी बुझाती हैं. अधिकतर लोगों को पैसा कमाने के लिए विदेशों में बस गए हैं. गांव की में खास तौर पर एन आर आई की कोठियों की छत पर इस तरह की टंकियां बनाई गई है.  कोठियों पर रखी नाना प्रकार की टंकियों से ही उसकी पहचान है. इसकी शुरुआत करीब 70 साल पहले हांगकांग जाने वाले तरसेम सिंह ने की थी.  अपनी कोठी के ऊपर पानी जहाज के आकर की टंकियां बनवाया जिसे लोगों ने खूब पसंद किया और अब तो यहां पर करीब 200 से अधिक कोठियों में अलग अलग तरीके की टंकियां आपको दिखाई देगी. 

कुछ टंकियों की फोटो इस तरह है, इनमे से कुछ पानी की टंकियां को देखने से ऐसा लगेगा की पानी की टंकियां ना होकर असली का हो.

 

 

Comments