1. पशुपालन

Buffalo Breeds: भैंस की 18 देसी–विदेशी नस्लें, जिनका पालन देगा अच्छा दूध उत्पादन और मुनाफा

भैंस पालन (Buffalo Rearing) का डेयरी उद्योग (Dairy Industry) में काफी महत्व है. हमारे देश में लगभग 55 प्रतिशत दूध यानि 20 मिलियन टन दूध भैंस पालन के जरिए मिलता है. ऐसे में अगर आप भैंस पालन की शुरुआत करना चाहते हैं, तो भैंस की ऐसी नस्ल (Buffalo Breeds) का पालन करें, जिससे दूध उत्पादन अच्छा प्राप्त हो.

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
buffalo
भैंस की देसी-विदेशी नस्लें

वर्तमान समय में लोग नौकरियां छोड़ कर पशुपालन की तरफ अपना रुझान बढ़ा रहे हैं. क्योंकि उन्हें पता है कि नौकरी कभी भी धोखा दे सकती है. तो ऐसे में खेती किसानी (Agriculture) और पशुपालन (Animal Husbandry) ही एक अच्छा कमाई का माध्यम बन सकता है. इसलिए पशुपालन इसमें सबसे ऊपर ही है.

जिनमें सबसे पहले आता है भैंस पालन (Buffalo Farming). क्योंकि भैंस का दूध जितना सेहत के लिए अच्छा होता है उतना ही कमाई के लिए मुनाफेदार (Profitable Business) भी होता है. लेकिन लोगों को समझ नहीं आता है कि कौनसी भैंस की नस्ल (Buffalo Breeds) का पालन करे जिसकी कीमत भी कम हो और दूध भी ज्यादा देती हो. तो ऐसे में अपने सभी सवालों का जवाब आप हमारे इस लेख में आसानी से प्राप्त कर सकते हो. क्योंकि आज हम आपको अपने इस लेख में भैंस की देसी-विदेशी नस्लों के बारे में बतायेंगे. तो आइये जानते हैं...

देशी भैंस की नस्लें (Indigenous buffalo breeds)

  • मुर्रा भैंस (हरियाणा)

  • सुर्ती भैंस (सुरती) (गुजरात)

  • जाफराबादी भैंस (गुजरात)

  • तराई (उत्तराखंड)

  • मेहसाना भैंस (महाराष्ट्र)

  • तोड़ा भैंस (तमिलनाडू)

  • भदावरी भैंस (उत्तरप्रदेश)

  • कालाखंडी भैंस (उड़ीसा)

  • नागपुरी भैंस (महाराष्ट्र)

  • नीली रावी भैंस (फिरोजपुर)

  • बन्नी भैंस (गुजरात)

  • सांभलपुरी (उड़ीसा)

  • पंढरपुरी भैंस (महाराष्ट्र)

  • चिल्का भैंस (उड़ीसा)

विदेशी भैंस की नस्लें (Exotic Buffalo Breeds)

  • ब्राउन स्विस मवेशी (स्विट्जरलैंड)

  • डेनिश लाल मवेशी (डेनमार्क)

  • जर्सी (ब्रिटेन)

  • ब्राउन स्विस (स्विट्जरलैंड)

English Summary: top indigenous and foreign breeds of buffalo, whose rearing will give good milk production and profits Published on: 21 July 2022, 05:45 IST

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News