आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. सरकारी योजनाएं

क्या है 'मृदा स्वास्थ्य कार्ड' योजना, जिसका फायदा उठाकर आप कमा सकते हैं लाखों का मुनाफा

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Soil Test

यूं तो सरकार की तरफ से कई ऐसी योजनाएं शुरू की गई हैं, जिनका फायदा उठाकर हमारे किसान भाई अपने फसल की बंपर पैदावार कर सकते हैं, लेकिन आज हम आपको अपनी इस रिपोर्ट में सरकार की जिस योजना से रूबरू कराने जा रहे हैं.

उस योजना का लाभ उठाकर न महज आप अपनी फसल की पैदावार बढ़ा सकते हैं, बल्कि उससे अच्छी खासी कमाई भी कर सकते हैं. इसके इतर आप इस योजना का लाभ उठाकर अपना खुद का व्यापार भी शुरू कर सकते हैं और इस व्यापार को शुरू करने के लिए सरकार आपको आर्थिक सहायता भी प्रदान करेगी.

सरकार द्वारा शुरू की गई इस महत्वाकांक्षी योजना का नाम 'मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना' है. जी हां...यह वही योजना है, जिसका फायदा उठाकर आप अच्छा खासा मुनाफा अर्जन कर सकते हैं, तो इस योजना को पूरे तफसील से जानने के लिए पढ़िए हमारी यह खास रिपोर्ट.

मृदा स्वास्थ्य योजना (Soil health plan)

इस योजना की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2015 में की थी. इस योजना का मुख्य ध्येय किसानों को फसलों में बंपर पैदावार करना था. इस योजना का लाभ उठाकर हमारे किसान भाई न महज अपनी फसलों की पैदावार बढ़ा सकते हैं, बल्कि उससे अच्छी कमाई भी सकते हैं. दरअसल, इस योजना के तहत हमारे किसान भाई जिस मिट्टी पर फसल उगाने जा रहे हैं, उसकी जांच की जाती है, जिससे यह पता लगाया जा सके कि यह मिट्टी कौन सी फसल के लिए उपयुक्त है. यहां इस मिट्टी पर कौन-सी फसल उगाने से बंपर पैदावार की जा सकती है. इसका पता मिट्टी की जांच करने से हो जाता है.

इसके साथ ही मृदा जांच से यह भी पता चल जाता है कि कितनी मात्रा में किसी फसल को उगाने में खाद, उर्वरक सहित अन्य पदार्थों की जरूरत पड़ सकती है. इससे किसानों को एक अंदाजा लग जाता है, जिससे उन्हें फसल उगाने में समस्या नहीं होती है. वहीं, अगर किसान भाई बिना मिट्टी की जांच किए फसल उगाते हैं, तो उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं होता है कि आखिर किस मात्रा में कौन-सी फसल उगानी है या फिर कितनी मात्रा में खाद व उर्वरक लगेगा, लेकिन निसंदेह इस योजना के वजूद में आने के बाद किसानों को व्यापक स्तर पर फायदा हो रहा है.

कैसे बना कमाई का जरिया (How to make money)

अब आपके जेहन में यह सवाल उठ रहा होगा कि आखिर मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना कैसे आपकी कमाई का जरिया बन सकता है, तो यहां हम आपको बताते चले कि आप इस योजना के जरिए सरकार से आर्थिक सहायता प्राप्त कर खुद की मृदा प्रयोगशाला शुरू कर मिट्टी की जांच कर अच्छा खासा मुनाफा अर्जित कर सकते हैं. काफी संख्या में युवा इस योजना का फायदा उठाकर अपने गांव में ही प्रयोगशाला शुरू कर रहे हैं, जिससे उन्हें अच्छा खासा मुनाफा हो रहा है. सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना के माध्यम से गांव के कई युवा को रोजगार मिल रहा है. बेशक, इस योजना को शुरू हुए पांच साल से भी अधिक होने जा रहा है, मगर अब इस योजना की वजह से लोगों के जीवन में जिस तरह का बदलाव देखने को मिल रहा है, उसकी वजह से इस योजना को खूब सराहा जा रहा है.

कितना लगता है खर्चा (How much does it cost)

यूं तो किसी भी मिट्टी प्रयोगशाला की शुरूआत करने में 5 लाख  रूपए तक का खर्चा आता है, मगर प्रयोगशाला की स्थापना के लिए सरकार 75 फीसद राशि आर्थिक सहायता के लिए देती है, जिसके बाद से किसी को भी इस प्रयोगशाला को शुरू करने में महज 3.764 लाख रूपए तक का खर्चा आता है. इस प्रयोगशाला से एक ओर जहां किसानों की पैदावार में बंपर वृद्धि हो रही है, तो वहीं गांव के बेरोजगार युवाओं को भी रोजगार प्राप्त हो रहा है.

English Summary: What is the soil health card scheme

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News