MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

मुफ्त शौचालय का निर्माण कराने के लिए PM Sochalay Yojana में ऐसे करें आवेदन

ग्रामीण इलाकों में अगर आज भी देखा जाए, तो जागरूकता की कमी होने की वजह से लोग खुले में शौच (Toilet) करते हैं. इसको रोकने और साथ ही ग्रामीण इलाकों में जागरूकता फैलाने के लिए देश के प्रधानमंत्री ने 2 अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत अभियान (Swachh Bharat Mission) की शुरुआत की. इसके तहत शहर, गाँव और कस्बों तक के लोगों में सफाई को लेकर जागरूकता (Awareness) फैलाई जाती है.

प्राची वत्स
प्राची वत्स
मुफ्त शौचालय का निर्माण
मुफ्त शौचालय का निर्माण

अपने स्वास्थ्य और पर्यावरण का ख्याल रखना हमारी जिम्मेदारी है. ऐसे खुले में शौच करना ना सिर्फ हमें बीमार करता है, बल्कि हमारे आस-पास के वातावरण को भी दूषित करता है. ग्रामीण इलाकों में अगर आज भी देखा जाए, तो जागरूकता की कमी होने की वजह से लोग खुले में शौच (Toilet) करते हैं.

इसको रोकने और साथ ही ग्रामीण इलाकों में जागरूकता फैलाने के लिए देश के प्रधानमंत्री ने 2 अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत अभियान (Swachh Bharat Mission) की शुरुआत की. इसके तहत शहर, गाँव और कस्बों तक के लोगों में सफाई को लेकर जागरूकता (Awareness) फैलाई जाती है.

प्रधानमंत्री शौचालय निर्माण योजना का उद्देश्य व्यक्ति, क्लस्टर और सामुदायिक शौचालयों के निर्माण के माध्यम से खुले में शौच को कम करना या समाप्त करना है. आपको बता दें कि महात्मा गांधी के जन्म की 150वीं वर्षगाँठ तक ग्रामीण भारत में 1.96 लाख करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से 1.2 करोड़ शौचालयों का निर्माण करके खुले में शौच मुक्त भारत (ओडीएफ) को हासिल करने का लक्ष्य रखा गया है.

स्वच्छ भारत मिशन 2022 का मुख्य उद्देश्य (Main objective of Swachh Bharat Mission 2022)

देश के ग्रामीण क्षेत्रों में बहुत से ऐसे लोग हैं, जिनके घरो में आज भी शौचालय नहीं है. शौच के लिए आज भी वो खुले में जाते हैं. कहीं ना कहीं इसका कारण आर्थिक परेशानियां हैं. आर्थिक रूप से कमज़ोर होने के कारण भी अपने घरों में शौचालय नहीं बनवा पाते हैं. इस समस्या को देखते हुए प्रधानमंत्री ने स्वच्छ भारत अभियान शुरू किया है. इस Swachh Bharat Mission 2022 के अंतर्गत  केंद्र सरकार ग्रामीण क्षेत्रों के गरीब लोगों के घरों में मुफ्त में शौचालय बनवाएंगें.

कितना मिलेगा अनुदान (How much will the Grant)

भारत सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को शौचालय बनवाने के लिए सरकार अनुदान दे रही है, ताकि उन्हें आर्थिक परेशानियों का सामना ना करना पड़े. ऐसे में सरकार अनुदान देकर घर में शौचालय बनवाने में सहायता प्रदान कर रही है. सरकार की मनसा इस योजना के ज़रिये ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों के जीवन स्तर में सुधार करना और ग्रामीण क्षेत्रों में स्थायी स्वच्छता को बढ़ावा देना. 

2022 शौचालय सूची लाभ (2022 toilet list benefits)

  • इस ऑनलाइन सुविधा का लाभ देश के ग्रामीण क्षेत्रों के गरीब लोग उठा सकते हैं.

  • देश के लोग घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ग्रामीण शौचालय लिस्ट में अपने नाम की जांच कर सकते है.

  • स्वच्छ भारत मिशन  के तहत घरों में शौचालय बनाया जाएगा. ताकि लोग खुले में शौच ना करें. इसमें कितने लोगों को शौचालय का लाभ मिला है और इसमें से कितने लोगों का बन चुका है ये एसबीएम रिपोर्ट में देखा जा सकता है. इसमें ग्राम पंचायत शौचालय लिस्ट, ब्लॉक या ग्रामवार लिस्ट देख सकते है.

  • ग्रामीण नई शौचालय सूची की सहायता से आप आसानी से इस बात का पता लगा सकते हैं कि स्वच्छ भारत योजना के अंतर्गत किसका शौचालय बन चुका है.

  • इस ऑनलाइन सुविधा के ज़रिये लोगो के समय की भी बचत होगी.

  • जिन लोगो का नाम इस शौचालय सूची के अंतर्गत आएगा उनके घरो में केंद्र सरकार की तरह से मुफ्त में शौचालय बनाया जायेगा.

इस प्रकार शौचालय सूची 2022 ऑनलाइन में चेक करें अपना नाम (In this way check your name in toilet list 2022 online)

देश के जो इच्छुक लाभार्थी हैं, वो अगर शौचालय सूची में अपना नाम देखना चाहते हैं, तो वह नीचे दिए गए तरीके से अपना नाम देख सकते हैं.

  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने कंप्यूटर स्क्रीन पर अगला पेज खुलेगा. इस पेज पर आपको स्टेट, डिस्ट्रिक्ट, ब्लॉक आदि का चयन करना होगा.

  • इसके बाद आपको View Report के बटन पर क्लिक करना होगा. इसके बाद आपके सामने ग्रामीण शौचालय सूची खुल जायेगा.

  • अब आप इस सूची में अपने नाम की जांच कर सकते है.

English Summary: Swachh Bharat Mission, Under Prime Minister's Toilet Construction Scheme, get free toilet construction Published on: 23 February 2022, 12:16 IST

Like this article?

Hey! I am प्राची वत्स. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News