कृषि यन्त्र सब्सिडी के लिए कल अंतिम दिन, किसान जल्दी करे आवेदन

इमरान खान
इमरान खान
pesticide machine

यदि किसान को थोड़ी सी भी मदद सरकार कि ओर से खेती में मिल जाती है तो किसान खुश हो जाता है. भारत सरकार के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा खेती में मशीनीकरण को बढ़ावा देने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं. इसलिए सरकार ने कृषि यंत्रों पर  सब्सिडी  का प्रावधान रखा है. कृषि यंत्रों पर ५० प्रतिशत तक  सब्सिडी  उपलब्ध है. यह हर एक राज्य में अलग-अलग होता है. हरियाणा सरकार हर साल किसानों को कृषि यंत्रों पर  सब्सिडी  देती है. इस साल भी राज्य सरकार किसानों के कृषि यंत्रों पर  सब्सिडी  का सूचना पत्र पहले ही लागू कर चुकी है.इस बार  सब्सिडी  के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये गए हैं.

agri machine

कृषि तथा किसान कल्याण विभाग द्वारा वर्ष 2019-20 के दौरान प्रमोशन ऑफ कॉटन कल्टीवेशन योजना के अंतर्गत 50 प्रतिशत  सब्सिडी  पर कृषि यंत्र व मशीनें लेने के इच्छुक किसानों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए हैं। आवेदन करने की अंतिम तिथि कल 20 जून  है।प्रदेश सरकार के  कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा किसानों को 50 प्रतिशत  सब्सिडी  पर 25 कॉटन सीड ड्रिल, 120 मल्टी बैट्री ऑपरेटिड स्प्रेयर, 120 पावर ऑपरेटिड स्प्रेयर जैसे कृषि यंत्र व मशीनें उपलब्ध करवाई जाएंगी। इसके लिए किसान 20 जून तक www.agriharyana.org पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

इन किसानों को मिलेगा  सब्सिडी  का लाभ

ज्ञात इस  सब्सिडी  योजना का लाभ सभी किसानों को नहीं मिलेगा बल्कि  इस योजना के तहत केवल उन्हीं किसानों को लाभ प्रदान किया जाएगा जिन्होंने चालू वर्ष या पिछले पांच वर्षों के दौरान उपरोक्त कृषि यंत्रों पर  सब्सिडी  नहीं लिया हो।

जल्दी करें अप्लाई (Apply now)

जिन किसानों ने अभी तक  सब्सिडी  के लिए आवेदन नहीं किया है वो जल्दी इसके लिए अप्लाई कर दें. इसके  लिए आपके पास मात्र कल का दिन है. आवेदन करने से पहले पात्रता के विषय में अच्छे से पढ़ ले.इसकी अधिक जानकारी हरियाणा सरकार कि वेबसाइट www.agriharyana.org पर उपलब्ध है. 

English Summary: Subsidy on Agriculture Equipment in Haryana

Like this article?

Hey! I am इमरान खान. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News