GOOD NEWS: डेयरी से जुड़े लोगों को कम ब्याज दर पर लोन के साथ सब्सिडी भी मुहैया करवाई जाएगी

पिया कलवानी
पिया कलवानी
Cow

डेयरी विकास विभाग की ओर से कृषि और डेयरी फार्मिंग कर रहे लोगों को आर्थिक रूप से सहायता देने की जोरों से कोशिश की जा रही है. ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि देश भर में कृषि क्षेत्र के अंदर विविधता देखी जा सके और डेयरी का धंधा करने वाले लोगों को बढ़ावा दिया जा सके. पंजाब सरकार ने डेयरी फार्मिंग से जुड़े नौजवानों से वादा किया है कि वह उन्हें हर मुमकिन प्रयास कर आर्थिक रूप से मदद करने में आगे रहेगी.

पंजाब के डिप्टी कमिश्नर संदीप हंस कहते हैं कि मिशन तंदुरुस्त पंजाब में पंजाब सरकार द्वारा हर घर में रोजगार देने के प्रयास किए जा रहे हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए डेयरी विकास विभाग इस जनरेशन के नौजवानों को डेयरी से जुड़ी ट्रेनिंग मुहैया करवा रहा है. साथ ही डेयरी से जुड़े कारोबार के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए लोगों को बहुत ही कम ब्याज दर पर कर्ज उपलब्ध करवाएं जा रहे हैं. कम ब्याज दर वाले कर्ज पर नौजवानों को सब्सिडी भी दी जाएगी.

इसी मुद्दे पर और जानकारी देते हुए संदीप जी ने कई प्रकार की सरकारी स्कीमों के बारे में बताया जो डेयरी फार्मिंग से जुड़ी हुई हैं. वह बताते हैं कि जो नौजवान 2 से लेकर 20 दुधारू पशुओं को खरीदना चाहते हैं उन्हें 14 लाख रुपए का कर्ज मुहैया कराया जाएगा जा रहा है जिसके साथ जनरल कैटेगरी के लोगों को 25% और शेड्यूल कास्ट को 33% सब्सिडी भी मिलेगी. डेयरी विभाग देसी नस्ल की गायों को बढ़ावा देने के लिए ऋण और सब्सिडी दे रहा है. जो डेयरी फार्मर्स 10 देसी नस्ल की गायों को खरीदना चाहते हैं उन्हें 7 लाख का ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा जिसके साथ जनरल कैटेगरी के लोगों को 25% और शेड्यूल कास्ट को 33% सब्सिडी भी मिलेगी.

हरे चारे वाले क्षेत्र को बढ़ावा देने के विशेष जतन करते हुए सिंगल रो फूडर हार्वेस्टर यानी मक्का, चरी और उसकी मशीन की खरीदारी के लिए 2.50 लाख रुपए के लोन पर एक मशीन के लिए जनरल वर्ग के उम्मीदवारों को ₹50,000 और शेड्यूल्ड कास्ट के लोगों के लिए ₹63,000 की सब्सिडी भी मुहैया करवाने का फैसला लिया गया है. जो लोग सेल्फ प्रोपेल्ड कटर यानी बरसीम/ लूसण की कटाई की मशीन खरीदना चाहते हैं उन्हें 2.2 लाख का लोन दिया जाएगा और साथ ही एक मशीन के लिए जनरल वर्ग के उम्मीदवारों को ₹50,000 और शेड्यूल्ड कास्ट के लोगों के लिए ₹63,000 की सब्सिडी भी उपलब्ध करवाई जा रही है.

डेयरी किसानों को आटोमैटिक चिल्ड डिसपैसिंग यूनिट (दूध ठंडा करके खपतकार के घर तक बेचने वाला एटीएम) खरीदने के लिए 8 लाख रुपए का लोन दिया जायेगा ताकि वह मार्केट के लिए यह मशीन खरीद सकें. इसमें जनरल और शैडयूल्ड कास्ट वाले लोगों के लिए एक मशीन के हिसाब से 4 लाख तक की  सब्सिडी दी जा रही है.

English Summary: People associated with dairy profession will get a loan of 14 lakh rupees

Like this article?

Hey! I am पिया कलवानी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News