1. सरकारी योजनाएं

Shadi Shagun Yogana : बेटियों को सरकार देगी 51 हजार रुपये की राशि, जानें कैसे करें आवेदन

सरकार की तरफ से बेटियों के लिए प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना (PM shadi Shagun Yogana) चलाई जा रही है, जिसके तहत लड़कियों को 51 हजार रुपये की राशि दी जाती है, तो जानें कैसे मिलेगा इस योजना का फायदा...

निशा थापा
निशा थापा
pm shadi shagun yojana
pm shadi shagun yojana

सरकार की तरफ से बेटियों के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिसमें लड़कियों की बेहतर शिक्षा के लिए लाड़ली योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं, सुकन्या योजना आदि शामिल है. ऐसी ही एक शादी शगुन योजना है, जिससे अल्पसंख्यक समुदाय की बेटियों को इसका फायदा मिल रहा है. 

इस योजना का उद्देश्य देश में अल्पसंख्यक बेटियों की पढ़ाई को बढ़ावा देना है. शादी शगुन योजना के तहत जो मुस्लिम बेटियां शादी से पहले स्नातक की पढ़ाई पूरी कर लेंगी, उन्हें केंद्र सरकार शादी में शगुन के रूप में 51,000 रुपये देगी.

प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना  (PM Shadi Shagun Yojana)

प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना मुख्य तौर से अल्पसंख्यक समाज की बेटियों के लिए 8 अगस्त 2017 को इसकी शुरूआत की गई थी. इस योजना का उद्देश्य मुख्यत: देश के मुस्लिम समुदाय की बेटियों में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देना है.

बता दें कि शादी शगुन योजना का लाभ ऐसी मुस्लिम बेटियों को मिलता है, जिन्होंने स्कूली स्तर पर बेगम हजरत महल राष्ट्रीय छात्रवृत्ति (scholarship) हासिल की है. बेगम हजरत महल राष्ट्रीय छात्रवृत्ति (scholarship) अल्पसंख्यक यानी मुस्लिम, इसाई, सिख, बौद्ध, जैन और पारसी समुदाय की बेटियों को दी जाती है. प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना के लिए केवल वहीं युवतियां पात्र होती है, जिन्होंने अपनी स्नातक (Graduation) की पढ़ाई पूरी कर ली हो.

यह भी पढ़े: LIC Policy Surrender: एलआईसी पॉलिसी से ऐसे पाएं छुटकारा, नहीं झेलना पड़ेगा कोई झंझट

अधिक जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो आपको प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना आवेदन फार्म भरना होगा.

English Summary: Muslim girls are getting 51 thousand rupees for marriage under pm shadi shagun yojana know where to apply Published on: 21 June 2022, 04:16 IST

Like this article?

Hey! I am निशा थापा . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News