प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ कैसे उठाएं...

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत भारत सरकार द्वारा किसानो के हितो की रक्षा  और आये दिनों हो रही फसल की बर्बादी के कारण किसानो की आत्महत्या को रोकने हेतु की गई है. तो क्या प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना किसानो की हो रही आत्महत्या पर लगाम लगा पायेगी?  आइये थोड़ा जानने की कोशिश करते हैं की आखिर किसान आत्महत्या जैसा कायरतापूर्ण कदम क्यों उठाते हैं? एक समय था । जब भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शाश्त्री जी ने दिल्ली के रामलीला मैदान से 1965 में देश को नारा दिया था.. जय जवान, जय किसान । आदरणीय जवानों का तो पता नहीं, लेकिन किसानों की हालत दिन प्रतिदिन खराब होती गई । और परिस्थितियों ने इस तरह करवट बदली। की किसानों को कोई रास्ता नज़र नहीं आने पर मौत तक का रास्ता इख़्तियार करना पड़ा । धूप, छाँव, बारिश में, बंज़र धरती से जंग लड़ने वाला किसान अपने जीवन रुपी जंग को हार गया। आप सोचेंगे की जो किसान आत्महत्या करते हैं । उनमे परिस्थितियों से लड़ने का साहस नहीं होता । मैं यह बिलकुल नहीं मानता ।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है..?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सरकार द्वारा किसानों के हितो की रक्षा के लिए बनाई गई एक योजना  है । जिसका लक्ष्य भारतवर्ष में कृषि को बढ़ावा देना, आये दिनों हो रही किसानो की आत्महत्या को रोकना इत्यादि है । प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसान अपनी फसल का बीमा बहुत सस्ते दरों में करवा सकते हैं । इस योजना को सफल बनाने हेतु केंद्र और राज्य सरकार दोनों अपना अपना योगदान देंगी । अर्थात बजट का हिस्सा दोनों वहन करेंगी । इस योजना  को क्रियान्वित करने के लिए लगभग 17600 करोड़ के बजट का प्रावधान किया गया है । प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना  के अंतर्गत बीमा भुगतान की जिम्मेदारी कृषि बीमा कम्पनी  के कंधो पर होगी ।

 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज :

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनाके अंतर्गत फसल बीमा करवाने के लिए निम्नलिखित कागजों  की आवश्यकता होती है. ऑन लाइन फॉर्म भरने से पहले आप अपने सभी जरूरी कागजात स्कैन करके ही बैठें। अगर आपके पास स्मार्ट फोन है तो आप इन सभी कागजातों को फोन के कैमरे से खींचकर फोन के ही जरिए ऑनलाइन भर सकते हैं।

1- आधार कार्ड

2- पहचान पत्र

3- पता प्रमाण पत्र के रूप में मतदाता पहचान पत्र या आधार कार्ड चल सकता है.

4- बोई गई फसल का माप हेक्टेयर में

5- बोई गई फसल की तिथि.

6- बीज बोन का प्रमाणपत्र राज्य के सम्बंधित विभाग से लिया जा सकता है.

7- जमीन संबंधी कागज़ाद.

8- कैंसिल किया हुआ चेक या पासबुक की प्रति.

9- आवेदनकर्ता की फोटो.

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की प्रीमियम दरें...

इस योजना  के अंतर्गत अपनी फसल का बीमा करवाने पर निम्नलिखित दरें लागू होंगी ।

बागवानी :

बागवानी से हमारा अभिप्राय बगीचे से है । बगीचे जैसे फूलो के बगीचे, फल के बगीचे इत्यादि, इन सब पर 5% की दर से प्रीमियम भरकर आप अपने बगीचे का बीमा करवा सकते है । माना की आपने अपने बगीचे का 1 लाख का बीमा करवाना है । तो आपको प्रीमियम के तौर पर 5000 रूपये देने पड़ेंगे ।

खरीफ की फसल :

खरीफ की फसल में प्रीमियम की दर 2% खरीफ की फसलो से अभिप्राय जैसे धान,बाज़रा, मक्का,  ज्वार, गन्ना इत्यादि से है । इसमें आपको 1 लाख के बीमे पर लगभग 2000 रूपये प्रीमियम के तौर पर देने पड़ेंगे ।

रबी की फसल :

रबी की फसल के लिए प्रीमियम की दर 1.5% है । इसमें 1 लाख के बीमे पर आपको लगभग 1500 रूपये प्रीमियम के तौर पर देने होंगे । रबी की फसल में गेहूं , जौं, सरसों, चना, मसूर इत्यादि सम्मिलित हैं

तिलहन की फसल :

तिलहन की फसल से हमारा अभिप्राय, ऐसी फसल जिनसे वानस्पतिक तेल का उत्पादन किया जाता है से है । इन फसलो में मुख्यतः मूंगफली, सरसों, तिल, सोया इत्यादि हैं । इनमे इस योजना के अंतर्गत प्रीमियम भरने की दर भी 1.5% ही तय की गई है । इसमें भी आपको 1 लाख रूपये के बीमे पर 1500 रूपये प्रीमियम के तौर पर देने पड़ेंगे ।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ कैसे उठा सकतें है..?

यदि आप किसान हैं, तो आप इस योजना  का लाभ उठाने के लिए योग्य हैं । इसलिए जब प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनाक्रियान्वित हो जाएगी । आप इसका प्रीमियम भरके और थोड़ी बहुत कागज़ी औपचारिकतायें पूरी करके इस योजना का लाभ उठा सकते हैं ।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के फायदे :

1 - प्राकृतिक आपदा के कारण यदि किसी किसान की फसल का नुकसान होता है । तो प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के माध्यम से उसकी बर्बाद हुई फसल का 25% उस किसान को तुरंत मिल जायेगा । जबकि बाकी बचे हुए नुकसान की भरपाई सरकार द्वारा कुछ औपचारिकतायें करने के बाद दी जाएगी ।

2 - इस योजना  के लाभार्थी बनने के लिए सरकार ने किसानो पर कोई बैरियर अर्थात सीमा निर्धारित नहीं की है । प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनाका लाभ हर प्रकार का, छोटा बड़ा किसान ले सकता है ।

3 - इस बीमा योजना  के अंतर्गत बीमा निकासी की प्रक्रिया को बेहद सरल बनाया जायेगा । जिससे किसानो को अपना पैसा निकालने के लिए लम्बे समय तक इंतज़ार न करना पड़े

4 - इस योजना  को सफल बनाने हेतु, वित्त में और अन्य संसाधनो में केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों की भागीदारी संभावित है ।

5 - प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लक्ष्य लगभग सभी किसानो को इस योजना  से लाभान्वित करवाने से है । तो हो सकता है आने वाले दिनों में हमें किसान आत्महत्या जैसे शब्द सुनने को न मिलें।

6 - यदि बीज के बोते समय आपके पास पैसे नहीं हैं। और आपने किसी से उधार लेके अपने खेतो में बीज बोया है । तो इसका ये कतई मतलब नहीं है की आप प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए आयोग्य हो गए । यदि आप किसान हैं तो आप हर हाल में इस योजना के लिए योग्य हैं

7 - इस योजना को सफल बनाने और किसानो के जीवन में कुछ बदलाव करने हेतु  केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को निर्देश जारी किये हैं । क्योकि हो सकता है की इस योजना के तहत पैसा निकासी मोबाइल फ़ोन के द्वारा भी हो जाय ।

8 - प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनासे जुड़ने के लिए जो प्रीमियम राशि निर्धारित की गई है । वह राशि पुरानी फसल बीमा योजना से लगभग 25% से 30% तक कम है ।

9 - यदि किसी की फसल का नुकसान होता है । और उस किसान के पास स्मार्टफोन है तो संभावित है की बीमा का भुगतान करने वाली कंपनी स्मार्ट फ़ोन के द्वारा ही नुकसान हुई फसल का फोटो मंगवाके उसके दावे को पास कर । उसको उसके नुंकसान के पैसे दे दे । अर्थात इस योजना के अंतर्गत तकनिकी का उपयोग संभावित है ।

10 - चूँकि यह पुरानी फसल बीमा योजना का ही बदला हुआ स्वरूप है । इसलिए किसानो की, परेशान होने की संभावना कम है । अन्यथा होता क्या है, की किसान हमेशा भ्रान्ति में रहता है, की पहले वाली योजना  है, या बाद वाली है ।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए आवेदन कैसे करें:

जैसा की हमने कहा था की सरकार की कोशिश है, की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमा कराना बेहद आसान हो और इसमें अधिक से अधिक तकनिकी का उपयोग हो.  इसी बात के मद्देनज़र भारत सरकार ने CROP INSURANCE  नामक वेबसाइट  की संगरचना करी है.  इसमें भारतवर्ष का कोई भी किसान चाहे वह किसी भी राज्य से सम्बंधित हो ONLINE APPLY  कर सकता है.  इसके अलावा मोबाइल के बढ़ते उपयोग को देखते हुए विभिन्न प्रकार की मोबाइल एप्लीकेशन जैसे CROP INSURANCE, KISAN SUVIDHA,  AGRI MARKET,  PUSA KRISHI इत्यादि की संगरचना की है.  इन एप्लीकेशन्स को अपने एंड्राइड मोबाइल में डाउनलोड करने के लिए आपको गूगल प्ले स्टोर में जाकर एप्लीकेशन का नाम टाइप कर उसको अपने फ़ोन में इंस्टाल  करना होता है| इस CROP INSURANCE PORTAL  के माध्यम से आप बैंक से या फिर डायरेक्ट बीमा कंपनी से अपनी फसल का बीमा करवा सकते हैं |

 

(ऑनलाइन आवेदन करने के लिए यहाँ क्लिक करें : ऑनलाइन आवेदन)

ये सब कागजात स्कैन करने के बाद इन तरीकों से करें आवेदन :

पहला स्टेप :

सबसे पहले आप वेबसाइट के होम पेज पर जाकर अपनी भाषा का चुनाव करें...

 

दूसरा स्टेप :

किसान आवेदन वाले बॉक्स पर क्लिक करें...

तीसरा स्टेप :

इस स्टेप में आपके सामने एक फार्म आएगा उसे आप भरिये...  

Comments