MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

Horticulture Crops: बागवानी फसलों के लिए ये टॉप पांच सरकारी योजनाएं किसानों के लिए वरदान, पढ़ें पूरी डिटेल

Government Schemes for Horticulture Crops: अगर आप भी बागवानी फसलों से अधिक मुनाफा प्राप्त करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको सरकार की कुछ बेहतरीन स्कीमों के बारे में पता होना चाहिए, जो किसानों की आर्थिक रूप से मदद करती है. ऐसे में आइए इन योजनाओं के बारे में जानते हैं-

लोकेश निरवाल
लोकेश निरवाल
बागवानी फसलों के लिए फायदेमंद हैं ये सरकारी योजनाएं
बागवानी फसलों के लिए फायदेमंद हैं ये सरकारी योजनाएं

Horticulture Crops: किसानों के लिए बागवानी काफी लाभदायक साबित होती है.  क्योंकि बागवानी में अन्य खेती के मुकाबले लागत कम और मुनाफा अधिक प्राप्त होता है. अगर आप भी हाल-फिलहाल में बागवानी से जुड़ी कोई भी फसल करना चाहते हैं, तो आज हम आपके लिए सरकार की पांच बागवानी की महत्वपूर्ण योजनाएं लेकर आए हैं, जो किसानों को बागवानी की फसलों/ Horticultural Crops के लिए बेहतर सब्सिडी उपलब्ध करवाई जाती है. ताकि किसानों को आर्थिक रूप से किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े. ये योजनाएं राष्ट्रीय बागवानी मिशन, उत्तर पूर्व और हिमालयी राज्यों के लिए बागवानी मिशन, राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड, नारियल विकास बोर्ड और केंद्रीय बागवानी संस्थान (सीआईएच), नागालैंड है.

देखा जाए तो बागवानी किसानों के लिए बेहद महत्वपूर्ण व्यावसायिक क्षेत्रों में से एक माना जाता है. इसी के चलते सरकार के द्वारा इसके लिए समय-समय पर योजनाएं के माध्यम से किसानों को लाभ पहुंचाती है. ऐसे में ऊपर बताई गई बागवानी से जुड़ी योजनाओं के बारे में विस्तार से जानते हैं-

टॉप 5 सरकारी बागवानी योजनाएं/ Top 5 Government Horticulture Schemes

राष्ट्रीय बागवानी मिशन (NHM)- सरकार की इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के किसानों की आय में बढ़ोतरी करना है. साथ ही किसानों को बागवानी के क्षेत्र में प्रोत्साहित करना है. सरकार की राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना के तहत किसानों को बागवानी करने के लिए 35-50 प्रतिशत तक सब्सिडी की सुविधा देती है.

उत्तर पूर्व और हिमालयी राज्यों के लिए बागवानी मिशन (HMNEH)-  सरकार की यह योजना पूर्वी राज्य और हिमालयी इलाकों के किसानों के लिए मुख्य रूप से शुरू की गई. इस मिशन के तहत कृषि क्षेत्र में बागवानी को बढ़ावा देने के साथ-साथ बागवानी में नवाचारों व नई तकनीकों से देश के किसानों को अवगत कराना है.

राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड (NHB)- देश में बागवानी उत्पादन को बढ़ाने के लिए और नई-नई तकनीकों, नवाचारों से किसानों को अवगत करना के लिए राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड/NHB को तैयार किया. यह भारत सरकार के कृषि मंत्रालय के अंतर्गत कार्यरत एक संस्थान है. बता दें कि सरकार की यह संस्थान किसानों को बागवानी क्षेत्रों जैसे कि- फल, सब्जियां, फूल और खेती से जुड़े महत्वपूर्ण उत्पादों आदि प्रक्रियाओं के लिए सहायता उपलब्ध करवाता है.

फसल विविधीकरण योजना (शुष्क बागवानी)-  सरकार की इस योजना के तहत किसानों को नींबू, आंवला, बेल और अन्य बागवानी फसलों के लिए  करीब 50 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जाती है. इस योजना का मुख्य उद्देश्य सूक्ष्म सिंचाई से बागवानी में बढ़ोतरी करना है.

ये भी पढ़ें: सिंचाई के साथ घर बैठे कमाई का मौका, आधे से कम दाम पर आज ही Solar Pump लगवाएं किसान, होगा डबल फायदा

छत पर बागवानी योजना- सरकार की इस योजना के तहत किसानों को अपने घरों की छत पर बागवानी करने के लिए आर्थिक रूप से मदद उपलब्ध करवाई जाती है. दरअसल, इस योजना के तहत किसानों को सरकार से करीब 50 प्रतिशत तक सब्सिडी मिलती है. लेकिन ध्यान रहे कि इसके लिए आपके घर की छत 300 वर्ग फुट होनी चाहिए. तभी आप इस योजना का लाभ सरलता से उठा पाएंगे.

English Summary: Government Schemes for Horticulture Crops Top five government schemes for farmers NHM HMNEH Horticulture Mission dry gardening rooftop gardening horticulture farmers Published on: 02 January 2024, 05:31 IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News