MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

गाय पालन, बकरी पालन और सूकर पालन के लिए आसानी से बनवाएं किसान क्रेडिट कार्ड, जानिए कैसे

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के जारिए भारत सरकार (Indian Government) कृषि प्रक्षेत्र से जुड़ें किसानों को सस्ते ब्याज दर पर संस्थागत ऋण उपलब्ध कराती है. इससे न सिर्फ उत्पादों को बढ़ाने में मदद मिलती है. इसके साथ ही कृषि उत्पादकता में भी बढ़ोतरी होती है. किसान क्रेडिट कार्ड को समय-समय पर परिवर्तन कर किसानों के लिए और अधिक सुविधाजनक बनाया गया है. अब तो केंद्र सरकार के द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड को पशुपालन एवं मत्स्य पालन से भी जोड़ दिया गया है.

विवेक कुमार राय
विवेक कुमार राय
Animal Husbandry
Animal Husbandry

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के जारिए भारत सरकार (Indian Government) कृषि प्रक्षेत्र से जुड़ें किसानों को सस्ते ब्याज दर पर संस्थागत ऋण उपलब्ध कराती है. इससे न सिर्फ उत्पादों को बढ़ाने में मदद मिलती है. इसके साथ ही कृषि उत्पादकता में भी बढ़ोतरी होती है. किसान क्रेडिट कार्ड को समय-समय पर परिवर्तन कर किसानों के लिए और अधिक सुविधाजनक बनाया गया है. अब तो केंद्र सरकार के द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड को पशुपालन एवं मत्स्य पालन से भी जोड़ दिया गया है.

लोन लेने के लिए जरूरी कागजात (Documents required to take loan)

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के तहत किसान अब पशुपालन (गौ पालन, बकरी पालन , सूकर पालन), मुर्गी पालन, मत्स्य पालन, झिंगापालन एवं मत्स्य पालन जैसे कार्य के लिए भी आसानी से लोन प्राप्त कर सकते है.
बशर्ते लाभार्थियों के पास तालाब, पोखर, जलाशय, रेसवे, हैचरी, पालन ईकाई जैसे मत्स्य व्यवसाय संबंधी गतिविधियों और अन्य राज्य विशिष्ट मत्स्य व्यवसाय के लिए स्वयं की जमीन या पट्टे पर ली गई जमीन व इनके लिए मछली पालन और आवश्यक लाईसेंस होना चाहिए.

अनुदान की पात्रता (Grant eligibility)

केन्द्र सरकार द्वारा पशुपालन एवं मत्स्य पालन करने वाले किसानों को जारी किसान केडिट कार्ड हेतु ब्याज अनुदान उपलब्ध कराया जाता है. दो लाख रूपए तक की सीमा के अन्तर्गत वितरित किसान क्रेडिट कार्ड ( पशुपालक/मत्स्य पालक) किसानों को अनुदान की पात्रता होगी. जिसमें 7 प्रतिशत वार्षिक रियायती ब्याज दर पर ऋण वितरण करने पर दो प्रतिशत का अनुदान वित्तदायी बैंकों को दिया जाता है.

ब्याज पर अनुदान (Interest subsidy)

लोन की अदायगी तारीख के भीतर करने पर 3 प्रतिशत ब्याज दर में अनुदान सहायता दी जाती है. यह योजना अभी 2018-19 एवं 2019-2020 हेतु उपलब्ध होगी. छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा जारी ब्याज अनुदान के नियमानुसार राज्य शासन से भी ब्याज अनुदान की सहायता ऐसे केसीसी धारकों को उपलब्ध करायी जाती है, गौपालन के लिए रूपए 2 लाख की सीमा तक 1 प्रतिशत ब्याज, रूपये 2 लाख से रूपए 3 लाख तक की सीमा तक 3 प्रति ब्याज. 

यह खबर भी पढ़ें : साहीवाल गाय की कीमत है सिर्फ 70 से 75 हजार रुपए, पशुपालक ज़रूर पढ़ें इसकी खासियत

इसी प्रकार मत्स्य पालन के लिए रूपए 1 लाख की सीमा तक 1 प्रतिशत ब्याज और रूपए 1 लाख से 3 लाख की सीमा तक 3 प्रतिशत ब्याज है.

किसान क्रेडिट कार्ड कहां पर बनेगा? (Where will the Kisan Credit Card be made?)

किसान क्रेडिट कार्ड वाणिज्यिक बैंकों, आरआरबी, लघु वित्त बैंकों और सहकारी समितियों पर जाकर बनावाया जा सकता है.

English Summary: Get Kisan Credit Card easily for cow rearing, goat rearing and pig rearing, know how Published on: 14 March 2020, 05:49 IST

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News