1. सरकारी योजनाएं

अब घर बैठे आसानी से पाएं गन्ना पर्ची कैलेंडर की सभी जानकारी

sugarcane

गन्ना किसानों की सहूलियत के लिए सरकार ने http://www.kisaan.net की शुरुआत की है. इस वेबसाइट के जरिए सभी गन्ना किसान अपनी गन्ना पर्ची से सम्बन्धित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते है. इसके द्वारा गन्ना किसान घर बैठे-बैठे आसानी से इंटरनेट के जरिए अपनी चीनी मिल से सम्बंधित सर्वे, पर्ची निर्गमन, तौल, भुगतान एवं विकास सम्बंधी पूरी जानकारियां प्राप्त कर सकते है. सरकार की इस पहल से जहां गन्ना किसानों के समय की बचत होगी. वहीं, धन के व्यय में भी कमी आयेगी. ऐसे में आइये जानते है  कि किसान भाई गन्ना पर्ची से संबन्धित जानकारी कैसे प्राप्त कर सकते है-

किसान गन्ना कैलेंडर (Ganna Calendar)   

गन्ना किसानों को पहले भुगतान से संबन्धित कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता था. जिनमें सबसे बड़ी समस्या मिलनें वाले धन और पर्ची के लिए किसानों को कार्यालयों का चक्कर काटना पड़ता था. समय से भुगतान न प्राप्त होने पर इसका सीधा प्रभाव फसलों पर भी पड़ता था. किसानों की इन्हीं सभी समस्याओं के मद्देनजर सरकार के द्वारा यह सुविधा प्रारंभ की गयी है.  अब गन्ने की पर्चियों की पूरी जानकारी  http://www.kisaan.net के माध्यम से मोबाइल, कंप्यूटर अथवा साइबर कैफे से प्राप्त कर सकते है.

sugar can e

किसान http://www.kisaan.net पर गन्ना पर्ची कैसे देखें

  • किसान सबसे पहले net में सर्च करें.

  • वेबसाइट खुलने के बाद साईट पर दिए हुए अंको को भरे.

  • इसके पश्चात आपको अपना क्षेत्र, फैक्ट्री का नाम अंकित करें.

  • किसान इसके बाद किसान लॉग इन पर क्लिक करें.

  • वर्ष का चयन करे.

  • इसके बाद आपके सामने सभी ब्यौरा आ जायेगा.

गौरतलब है कि यूपी सरकार के इस पहल से जहां गन्ना माफिया बाहर होंगे. वहीं, पर्चियों की कालाबाजारी नहीं हो पाएगी. सरकार का दावा है कि इस पहल से प्रदेश के करीब लाखों किसानों को फायदा होगा.

ये भी पढ़ें: लाखों गन्ना किसानों को बड़ा तोहफा, अब टेट्रा पैक में बिकेगा गन्ने का रस

English Summary: get all the sugarcane slip calendar related information from home

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News