Commodity News

बेमौसम बारिश ने बिगाड़ा सब्जियों का गणित

बेमौसम बारिश के चलते सब्जियों का गणित बिगड़ गया है। यही वजह है कि पिछले एक माह से सब्जियों की कीमतों में काफी उछाल आया है। इससे आम लोगों के किचन का बजट भी बिगड़ गया है। जो सब्जियां 50-60 रूपए किलो के भाव बिक रही थीं वही अब 100 रूपए किलो तक पहुंच गई हैं। सब्जियों की कीमतों में तेजी की मुख्य वजह कई हिस्सों में बेमौसम बारिश के कारण हुई आवक कम को बताया जा रहा है।

टमाटर व प्याज की आवक हुई आधी

बेमौसम बारिश की वजह से बड़े शहरों में टमाटर व प्याज की आवक में कमी आई है। देश में टमाटर की आवक जहां 60 हजार टन हुआ करती थी वही अब 20 हजार टन तक गिरी है। प्याज का उत्पादन भी 217 लाख टन रहने का अनुमान है। इस वर्ष 8 लाख टन ज्यादा प्याज का उत्पादन हुआ है।

100 रूपए किलो बिक रही सब्जियां

अगर हम सब्जियों की कीमतों पर नजर डालें तो गोभी की कीमत 100 रूपए किलो जो कि पहले 80 रूपए किलो हुआ करती थी। वहीं शिमला मिर्च 50 से 70 रूपए किलो, तोरई 60 से 80 रूपए किलो, मटर 50 से 200 रूपए किलो, गाजर 40 से 60 रूपए किलो तक बिक रही हैं।

बिगड़ गया गणित

बेमौसम बारिश की वजह से सब्जियों के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। इसका सीधा असर दिल्ली, एनसीआर, मुंबई, हैदराबाद जैसे बड़े शहरों में देखने को मिल रहा है। इस वर्ष सब्जियों का उत्पादन 1762 लाख टन रहने का अनुमान है जबकि पिछले वर्ष देश में सब्जियों का कुल उत्पादन 1690 टन रहा था।

-रूबी जैन 



English Summary: Unmatched rain math of poor vegetables

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in