Search results:


किसान भाइयों बीटल नस्ल की बकरी देती है प्रतिदिन 4 लिटर दूध

किसान भाइयों अधिक दूध उत्पादन के लिए बकरी की बीटल नस्ल एक दुधारू नस्ल के रूप में विकसित की गई है। इस नस्ल की बकरी वजन में काफी भारी होती है तो वहीं इस…

व्यवसायिक डेरी फार्मिंग के प्रशिक्षण के लिए 15 तारीख तक करें आवेदन

देश में डेयरी फार्मिंग किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है. क्योंकि डेयरी से किसानों को अच्छा मुनाफा मिल रहा है. लेकिन किसी भी काम को शुरू करने से पह…

पशुओं को संतुलित दाना मिश्रण खिलाने से बढेगा दूध उत्पादन

पशुपालन आज के समय में किसानों के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हो रहा है. सरकार भी पशुप्पालन को बढ़ावा दे रही है . यदि कोई भी किसान पशुपालन शुरू करता है सब…

आईवीआरआई ने लांच किए नए एप, किसानों को मिलेगी मदद

आज के समय किसानों के सामने सबसे बड़ी समस्या है कृषि की आधुनिक तकनीकों के विषय में जानकारी न मिलना. इस समय यदि किसानों को सही जानकारी मिले तो वो खेती म…

कड़कनाथ मुर्गे का मीट मोबाइल एप के माध्यम से सीधे आपके घर

किसान भाइयों आपने कड़कनाथ मुर्गे की खबर जरूर पढ़ी होगी। इस मुर्गे का अंडा व मीट काफी लोकप्रिय है मध्य प्रदेश में मशहूर इस कड़कनाथ मुर्गा अब इतना प्रसि…

‘वन हेल्थ सम्मिट’ के जरिए देश को स्वस्थ बनाने की शुरुआत .

देश पशुपालन और कृषि के क्षेत्र में तो काफी तरक्की कर रहा है. दूध उत्पादन, मुर्गी पालन, मछली पालन सभी में भारत ने अन्तराष्रीतोय स्तर पर अपनी एक अलग पहच…

तय समय पर नहीं आया तो पशुपालकों को बड़ी समस्या

मौसम के बदलते करवट का असर कृषि क्षेत्र में संकट के बादल दिखाई दे रहे हैं क्यूंकि मॉनसून के आने में देरी होने की वजह से इसका सीधा असर कृषि पर ही पड़ता ह…

आपके पशु को भी तो नहीं है पथरी, जानें लक्षण और इलाज

बदलते हुए समय के साथ ना सिर्फ नई बीमरियों ने इंसानों को अपनी चपेट में लिया है, बल्कि पशुओं पर भी इनका प्रभाव पड़ा है. पालतु पशओं में ऐसी बहुत से बीमार…

भारत में उच्च मांग और ज्यादा दूध उत्पादन वाली मवेशी नस्लों के बारे में...

हमारे देश में गाय और भैंस, इन दोनों पशुओं का पालन विभिन्न उद्देश्यों से किया जाता है. भारत में दुधारू गायों की सबसे अच्छी नस्लों में साहीवाल, गिर, राठ…

झंझट खत्म: अब लें किसान क्रेडिट कार्ड से पशु और मत्स्य पालन के लिए ऋण

भारत सरकार कृषि से जुड़े लोगों को किसान क्रेडिट के माध्यम से सस्ती दर पर ऋण उपलब्ध करवाती है. इस योजना से न केवल उत्पादों को बढ़ाने मदद मिली है बल्कि क…

पशुपालन: 15 लीटर तक दूध देती है पंढरपुरी भैंस, हर 12-13 महीने पर होती है गाभिन

हर साल विश्व पशु चिकित्सा दिवस (World Veterinary Day) अप्रैल के अंतिम शनिवार को मनाया जाता है. इस दिवस का उद्देश्य पशुओं की देखभाल, उनमें पाए जाने वाल…

पशुपालन: भारतीय नस्ल की इन 10 बकरियों को पालकर कमाएं मुनाफ़ा

छोटे किसान और खेतिहर मजदूरों के लिए बकरी पालन करना बहुत लाभकारी साबित होता है. बकरी पालन को कम लागत, साधारण आवास और सरल रख-रखाव से सफलतापूर्वक कर सकते…

पशुओं के लिए आपातकालीन स्थिति में अपनाएं प्राथमिक चिकित्सा के 5 आसान उपाय

कई बार पशुओं को आपातकालीन स्थिति में प्राथमिक चिकित्सा नहीं मिल पाती है. ऐसे में उनकी बीमारियां गंभीर रूप धारण कर लेती हैं. अगर इस स्थिति में पशुओं को…

किसानों की लाइफ में आएगा क्रांतिकारी बदलाव, ऐसे बढ़ा सकते हैं अपनी कमाई

सरकार ने कहा कि किसान, पशुपालकों और मछली पालकों की जिंदगी में आएगा बढ़ा बदलाव, जानिए क्या है पूरा मामला। केंद्र सरकार के द्वारा की गई राहत घोषणाएं किस…

World Bee Day 2020: मधुमक्खी पालन करके बनें आत्मनिर्भर, मिलेगा बेहतर मुनाफ़ा

दुनियाभर में हर साल 20 मई को विश्व मधुमक्खी दिवस (World Bee Day) मनाया जाता है. इस दिन मधुमक्खियों, तितलियों, चमगादड़ और चिड़ियों के प्रति जागरूकता ब…

राठी गाय कम चारे में भी देती है 6 से 8 लीटर दूध, जानिए इसकी खासियत

भारतीय गायों की नस्लों में राठी गाय काफी महत्वपूर्ण मानी जाती है. इसको बहुत दुधारू पशु कहा जाता है, जो कि राजस्थान के शुष्क क्षेत्रों में पाई जाती है.…

जमुनापारी नस्ल की बकरियों का पालन कर कमाएं भारी मुनाफा!

देश में बकरियों की कई नस्लों का पालन किया जाता है. इनमें जमुनापारी नस्ल की बकरी भी शामिल है. जिसको पशुपालक कम लागत में आसानी से पाल सकता है. आजकल पशुप…

यूनिक आईडी नंबर से होगी दुधारू पशुओं की पहचान, इस पोर्टल पर हो रहा डाटा अपलोड

कई बार किसान और पशुपालक के पशु खो जाते हैं, जिससे उन्हें काफी नुकसान होता है. मगर अब किसान और पशुपालक की इस समस्या का समाधान निकाला जा चुका है. दरअसल,…

डेयरी बिजनेस में गाय की इन देसी, विदेशी और संकर नस्लों से मिलेगा मुनाफ़ा, जानिए दूध उत्पादन की क्षमता

देश में गाय की कई नस्ल पाई जाती हैं, लेकिन पशुपालक को जिस नस्ल से अधिक दूध उत्पादन और मुनाफ़ा मिले, उसको उन्नत नस्ल की श्रेणी में रख दिया जाता है. आधु…

रोका-छेका योजना के जरिए खरीफ फसलों को आवारा पशुओं से रखा जाएगा सुरक्षित, 19 जून से 30 जून तक चलेगा अभियान

देशभर में पशुओं की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, तो वहीं चारागाह में कमी आती जा रही है. इस कारण पशुपालक अपने पशुओं को खुला छोड़ देते हैं. यहां तक की ज…

गेंदे के फूलों को बनाएं मुर्गी का चारा, बढ़ेगी अंडों की गुणवत्ता

लॉकडाउन के दौरान किसान और पशुपालक को पशुओं के चारे को लेकर कई समस्याएं हो रही हैं. इसमें मुर्गियों का पालन करने वाले किसान और पशुपालक भी शामिल हैं. ऐस…