1. ग्रामीण उद्योग

ये बिजनेस भरेगा जीवन में मिठास, सर्दियों में बहुत ज्यादा है मांग

सिप्पू कुमार
सिप्पू कुमार
mawa gajak

mawa gajak

सर्दियों के दिनों में हर तरफ आपको लाजवाब मीठे-मीठे गजक देखने को मिल ही जाएंगें. इस मौसम में हर किसी को गजक खाना पसंद होता है, तो बाजार भी तरह-तरह के गजकों से गुलजार रहते हैं. ऐसे में आप भी गजक बनाकर अच्छी कमाई कर सकते हैं. इस काम में न तो अधिक लागत की जरूरत है और न ही अधिक मेहनत की. चलिए इस लेख के माध्यम से हम आपको बताते हैं कि कैसे घर बैठे आप गजक से कमाई कर सकते हैं.

हर किसी के है बजट में

तिल या गुड़ से इस मिठाई को आराम से बनाया जा सकता है. इसके लिए आपको किसी खास तरह के लाइसेंस की भी जरूरत नहीं ना ही इसके लिए किसी तरह की कोई शैक्षिक योग्यता चाहिए. सबसे बड़ी बात इस काम को गृहणियां भी बहुत आराम से कर सकती है.

इसलिए है भारी मांग

गजक न सिर्फ स्वाद बल्कि सेहत के लिहाज से बहुत लाभकारी है. ठंड के दिनों में तो खुद डॉक्टर्स भी गजक खाने की सलाह देते हैं. इसमें मौजूद तिलआपकी मेटाबॉलिज्म शक्ति को बढ़ाते हैं और शरीर को गर्मीप्रदान करते हैं. इतना ही नहीं इसमें कई तरह के एंटी ऑक्सीडेंट, विटामिंस और मिनरल्सपाए जाते हैं, जो आपके शरीर को बीमारियों से बचाते हैं.

कितनी जगह की पड़ेगी जरूरत?

इस काम के लिए आपको किसी खास तरह की जगह की जरूरत नहीं है. छोटे स्तर पर काम शुरू कर रहे हैं, तो घर की रसोई में ही इसे बना सकते हैं. अगर काम थोड़ा बड़े स्तर पर शुरू करने जा रहे हैं, तो एक से दो कमरे भी पर्याप्त है. बस इतना ध्यान दीजिए कि जहां भी इसे बनाया जा रहा हो, वो जगह साफ-सुथरी हो और वहां कीड़े-मकौड़े न आने पाए.

क्या-क्या सामग्री चाहिए?

गजक कई तरह से बनाए जाते हैं. यहां हम आपको सामान्य तिल मावा गजक के बारे में बता रहे हैं, जो आम तौर पर बाजार में बिकते हैं और जिसकी सबसे अधिक मांग है. यहां हम जो सामाग्री आपको बता रहे हैं, वो प्रयोग के तौर पर बता रहे हैं. आप अपनी जरूरत के अनुसार इसमें फेरबदल कर सकते हैं. आपको इसके लिए 250 ग्राम मावा, 1 कप तिल, चीनी पाउडर 200 ग्राम, इलायची पाउडर एवं बारीक कटे हुए काजू चाहिए.

गजक बनाने की विधि

गजक बनाने के लिए तिल को हल्के आंच पर भूनना शुरू करें. इन्हें लगातार चलाते हुए रंग बदलने तक भूने, अगर तिल फूलने लगे तो आंच बंद कर दें. भूने हुए तिलों को प्लेट से निकालकर बाहर रख दें और पैन में 1 चम्मच घी डालकर उसेमेल्ट करते हुए मावे केसाथ क्रम्बल करें. अब मावे को भी धीमी आंच पर लगातार चलाते हुए कलर बदलने तक भूनें.अब इसमें अच्छे से पाउडर चीनी डाल कर मिलाएं. इस मिश्रण को 2 मिनिट तक धीमी आंच पर पकाएं.

शीट पर रखकर चिकना करें

अब बारी आती है मिश्रण को चिकना करने की, इसके लिए आप किसी बोर्ड या किचन टाप आदि पर मिश्रण को ठंडे होने के बाद ही डालें. आपके हाथ पर ये ना चिपके, इसके लिए थोड़ा सा घी हाथों पर लगा सकते हैं. चिकना करने के लिए बेलन का सहारा लें, बेलन पर भी थोडा़ सा घी लगाएं.

हल्के दबाव से बेलें

बेलव से इस मिश्रण को हल्का दबाव देते हुए चोकोर आकार में बेलना है. अधिक दबाव देने से आकार बदल सकता है या वो बेलन पर चिपक सकता है. एक बार आकार देने के बाद अब कटे हुये काजू को इसके छितरा दें. इसके बाद एक बार फिर बेलन का सहारा लेकर इन्हें दबाते हुए बेलें.

इस तरह दें आकृति

बेलने के बाद अब बारी है इसे सही आकार देने की. आप अपनी पसंद अनुसार इन्हें छोटे या बड़े टुकड़ों काट सकते हैं. अगर आपका मन करे तो आप कलात्मकता का उपयोग कर इन्हें कोई और आकार भी दे सकते हैं. अब गजक को ठोस होने के लिए रख दें.

खुशक बनाने के लिए करें ऐसा काम

आपका गजक बनकर तैयार है. लेकिन क्योंकि आपने इसे व्यापार के लिए बनाया है, इसलिए इसे खुशक बनाना भी जरूरी है. इसे खुशक बनाने के लिए 3-4 घंटे बाहर की हवा में रखें.

पैकेजिंग

गजक को बनाने के बाद इसकी पैकेजिंग जरूरी है. पैकेजिंग के लिए आप एयर टाइट प्लास्टिक पॉलीथिन का उपयोग कर सकते हैं. पैकैजिंग के वक्त ख्याल रहे कि हर पैकेट का वजन, आकार, रंग आदि एक जैसा ही हो, ताकि वो विश्वसनीय लगे.

कमाई और बाजार

इस काम को अगर छोटे स्तर पर करते हैं, तो महीने में औसत आपको 25 से 30 हजार रूपए तक की कमाई हो जाएगी.इसके लिए बाजार आपको भीड़-भाड़ वाली जगह मिल जाएगी. शाम के वक्त अधिक कमाई की संभावना है. आप कोई ठेला. टेंट लगाकर भी इस काम को शुरू कर सकते हैं.

English Summary: you can earn huge profit by making til mawa gajak business know more about market demand

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News