तीर्थ एग्रो ने कर्नाटक बैंक से हाथ मिलाया

भारतीय कृषि व किसानों को सशक्त बनाने के लिए अपनी प्रतिबद्धता के चलते तीर्थ एग्रो टेक्नोलाॅजी प्रा. लि. (शक्तिमान) ने भारतीय कृषि को पुनर्जीवित करने, अत्याधुनिक बनाने और नवीन तकनीकी के माध्यम से कृषि करने के तरीकों में बदलाव लाने का लक्ष्य बनाया है। इस लक्ष्य को एक कदम आगे बढ़ाते हुए कंपनी ने कर्नाटक बैंक लिमिटेड के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए जिसके तहत कृषि मशीनीकरण के लिए किसानों को आर्थिक सलाह दी जाएगी। 
तीर्थ एग्रो ने कृषि मशीनीकरण के क्षेत्र में किसानों की जरूरतों को समझा और उन्हें आर्थिक सलाह देने का बीड़ा उठाया ताकि किसान आसानी से कृषि मशीनरी खरीद सकें। इस अवसर पर शक्तिमान के नेशनल सेल्स हैड, रवि माथुर ने कहा कि यह समझौता किसानों की प्रति एकड़ उपज बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि यह कदम कृषि को और अधिक किफायती बनाने में एक स्मारकीय मील का पत्थर साबित होगा। वहीं बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर एवं सीईओ पी. जयाराम भट्ट ने बताया कि इस समझौते के माध्यम से हमें भारत में कृषि मशीनीकरण को बढ़ावा देने का अवसर मिलेगा क्योंकि तीर्थ एग्रो के साथ मिलकर हम बैंकिंग में कृषि वित्तपोषण में अनुभवी होने का लाभ ले सकते हैं।
गौरतलब है कि शक्तिमान अपनी नवीन तकनीकी और कृषि मशीनीकरण समाधान के माध्यम से भारतीय कृषि को नए आयाम पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध है। पिछले कई दशकों से कम दाम में किसानों को बेहतर व सर्वश्रेष्ठ तकनीकी देने के कारण ही कंपनी लगातार विकास कर रही है। तीर्थ एग्रो टेक्नोलाॅजी प्राइवेट लिमिटेड भारतीय कृषि यंत्र बनाने वाली अग्रणी कंपनी है जिसका इतिहास दो दशक पुराना है। सन् 1997 में राजकोट से शुरू हुई इस कंपनी ने शक्तिमान ब्रांड नाम से कृषि यंत्र बनाए। कंपनी का अपना 685 डीलर्स व 42 डिस्ट्रीब्यूटर्स का डीलरशिप नेटवर्क है जो कि पूरे भारत में फैला हुआ है।

Comments