News

35 लिटर प्रतिदिन दूध देगी गाय की यह क्रॉस ब्रीड

पंतनगर विश्वविद्यालय के शैक्षणिक डेयरी फार्म में भ्रूण प्रत्यारोपण विधि से स्वस्थ उच्च गुणवत्ता के क्रास ब्रीड गाय के दो बच्चों का जन्म हुआ। पशुचिकित्सकों का दावा है कि इन बच्चों की दुग्ध उत्पादन क्षमता उच्च स्तर की होगी।

विश्वविद्यालय के पशुचिकित्सा महाविद्दालय के मादा रोग एवं प्रसूति विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. शिव प्रसाद और प्राध्यापक डॉ. सुनील कुमार द्वारा एक क्रास ब्रैड भ्रूण दाता गाय में हार्मोन द्वारा अत्यधिक अण्डक्षरण कराया गया। इस गाय का उच्चतम दुग्ध उत्पादन 18 लीटर प्रतिदिन था। इस तरह प्राप्त अण्डाणुओं को गर्भाष्य में कनेडियन ब्रीड के साँड़ के वीर्य से निषेचित कराया गया, जिसकी उत्पादन क्षमता 13,849 लीटर एक दुग्ध काल में थी।

इन निषेचित अंडों से तैयार उच्च गुणवत्ता के दो भू्रणों को आदाता गाय में मई 2017 को प्रत्यारोपित किया गया, जिसने गर्भकाल पूरा करने के बाद एक ही साथ दो स्वस्थ बच्चों को जन्म दिया। डा. शिव प्रसाद ने बताया कि यह बच्चे जब अपने उत्पादन काल में आएंगे तो इनकी दुग्ध उत्पादन क्षमता औसतन 35 ली प्रतिदिन होगी, जो कि दूध उत्पादन बढ़ाने की ओर एक सशक्त कदम होगा। उन्होंने बताया कि इसके अलावा अभी फरवरी 2018 के दूसरे सप्ताह में भी आदाता गाय से भू्रण प्रत्यारोपित बच्चे प्राप्त होगें।

गौरतलब है कि भ्रूण प्रत्यारोपण विधि से उच्च गुणवत्ता के पशुओं के उत्पादन से सम्बन्धित कार्य विश्वविद्यालय द्वारा वित्त पोषित नस्ल सुधार एवं संरक्षण संबंधित कोर रिसर्च कोड-211 के अन्तर्गत विगत 02 वर्षों से चल रहा है। वर्तमान मे उच्च गुणवत्ता की साहीवाल गायों पर भी भू्रण प्रत्यारोपण विधि से कार्य किया जा रहा है तथा 6 साहीवाल भ्रूण को आदाता गाय में प्रत्यारोपित किया गया है। शीघ्र ही उन्नत नस्ल के साहीवाल पशुओं का उत्पादन होगा, जो इस नस्ल की दुग्ध उत्पादन क्षमता बढ़ाने में सहयोग करेंगे।

कृषि विज्ञान केंद्र

पंतनगर उत्तराखंड



Share your comments