News

सब्जियों के दाम बढ़ने का कारन मौसमी है : पासवान

नई दिल्ली: उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान ने कहा कि प्याज और टमाटर की कीमतों में मौजूदा तेजी है मौसमी है और विभिन्न उत्पादक राज्यों से यह फसल जल्द ही बाजार में आना शुरू होगी जिसके बाद सप्ताह भर में स्थिति सामान्य होगी। सरदार पटेल की वर्षगांठ के मौके पर देश की एकता और अखंडता को अक्षुण्ण रखने का संकल्प लेते हुए पासवान ने कहा कि प्याज की जल्द तैयार होने वाली किस्में दिल्ली की मंडियों में आने लगी हैं तथा विभिन्न प्याज उत्पादक राज्यों में यह फसल निकाली जा रही है जो जल्द ही बाजार में आनी शुरू होगी तथा प्याज की देर से तैयार होने वाली किस्मों की उपज जनवरी से बाजार में आने लगेगी और अभी सप्ताह भर में स्थिति सामान्य होने की दिशा में बढऩे लगेंगी।

पासवान ने कहा, ‘‘टमाटर और प्याज की कीमत में वृद्धि मौसमी है। प्याज की नई फसल की आवक में सुधार होने के साथ एकाध सप्ताह में कीमतें कम होना शुरु हो जायेंगी।’’ उन्होंने कहा कि बाजार में अक्तूबर से जल्दी तैयार होने वाली किस्मों का मंडियों में आवक शुरू हो चुकी है।  व्यापार के आंकड़ों के मुताबिक राष्ट्रीय राजधानी में प्याज की खुदरा कीमत 51 रुपए किलो चल रही है जबकि टमाटर की कीमत 80 रुपए किलो है। मदर डेयरी के बिक्री केन्द्र में प्याज 47 रुपए किलो बिक रहा है और टमाटर की कीमत 70 रुपए किलो है।



English Summary: The reason for the increase in the prices of vegetables is seasonal: Paswan

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in