News

कृषि क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करने वाले छात्रों को PNB वार्षिक देगा प्रोत्साहन हेतु 50,000 रुपये

पंजाब नेशनल बैंक (PNB), भारत का दूसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक (PSB) है, यह बैंक भारत के प्राथमिक क्षेत्र यानि कृषि को मजबूत करने और किसान समुदाय को सशक्त बनाने के लिए हमेशा से ही कृषि शिक्षा और प्रशिक्षण पर ध्यान केंद्रित करता आया है. कृषि बैंकिंग के अलावा, यह बैंक कृषि क्षेत्र में लगातार उन नए आयामों को बनाने पर ध्यान केंद्रित किया है जो इस क्षेत्र को और सहायता प्रदान कर सकते हैं. बोर्ड के एक प्रस्ताव के मुताबिक, पंजाब नेशनल बैंक ((PNB) ने भारत के शीर्ष कृषि विश्वविद्यालयों में  स्नातक और स्नातकोत्तर के मेधावी छात्रों को प्रोत्साहन प्रदान करने के लिए नकद पुरस्कारों को देने हेतु एक संस्था बनाया है.  वार्षिक प्रोत्साहन राशि देने के लिए INR 6,00,000 / - रुपये निर्धारित किया गया है. बता दे कि बैंक किसानों, महिलाओं और ग्रामीण युवाओं को प्रशिक्षण सुविधाएं प्रदान करने के लिए पहले से ही देश भर में 12 किसान प्रशिक्षण केंद्र (एफटीसी) चलाता है.

PNB बैंक भारत के निम्नलिखित छह कृषि विश्वविद्यालयों में कृषि का अध्ययन करने वाले स्नातक और स्नातकोत्तर छात्रों को प्रोत्साहन राशि प्रदान करेगा -

पंजाब कृषि विश्वविद्यालय, लुधियाना, पंजाब

बिहार कृषि विश्वविद्यालय, सबौर, भागलपुर, बिहार

तमिलनाडु कृषि विश्वविद्यालय, कोयम्बटूर, तमिलनाडु

जी.बी.पंत कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, पंतनगर, उत्तराखंड

श्री, करण नरेंद्र कृषि विश्वविद्यालय, जोबनेर, जयपुर, राजस्थान

ओडिशा कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय

PNB ने पुरस्कारों की दो श्रेणियों में देने का योजना बनाया है -

अंडर ग्रेजुएट छात्रों के लिए  -   पंजाब केसरी कृषि रतन पुरुस्कार

स्नातकोत्तर छात्रों के लिए  - लाला लाजपत राय कृषि शिक्षा शमन पुरुस्कार

उक्त 6 कॉलेजों में से प्रत्येक कॉलेज से दो मेधावी छात्रों  (एक अंडर-ग्रेजुएट और एक पोस्ट-ग्रेजुएट छात्र ) यानि 12  छात्रों को प्रोत्साहन राशि दिया जाएगा. इन छात्रों को भारतीय कृषि क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहन हेतु  INR 50,000 / -  रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा. बता दे कि पूरे भारत में  PNB बैंक के 12 प्रशिक्षण केंद्र (FTCS)  भी हैं. इसमें हरियाणा (1), पंजाब (2), राजस्थान (2), उत्तर प्रदेश (2), छत्तीसगढ़ (1), मध्य प्रदेश (1), तमिलनाडु (1), उड़ीसा (1), पश्चिम बंगाल (1) आदि शामिल हैं. ये FTCS  कृषि और उद्यमी विकास  (Entrepreneur Development ) से सम्बंधित गतिविधियों जैसे कंप्यूटर के इस्तेमाल, कटाई, सिलाई और कढ़ाई का नि:शुल्क प्रशिक्षण प्रदान करते हैं.



Share your comments