जेटली ने लांच किया देश का पहला एग्री ऑप्शंस…

नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कमोडिटी एक्सचेंज नेशनल कमोडिटी और डेरिवेटिव्स एक्सचेंज लिमिटेड (एनसीडीईएक्स) के किसानों के लिए कृषि-अर्थव्यवस्था को अधिक कुशल बनाने और उन्हें उनकी पैदावार को बेहतर मूल्य दिलाने के प्रयास में ग्वार बीज में देश के पहले एग्री कमोडिटी ऑप्शंस की शुरुआत किया। 

जेटली ने मकर संक्रांति के अवसर पर यहां आयोजित एक कार्यक्रम ग्वार उत्पादक किसानों की मौजूदगी में घंटी बाजार कर इसकी शुरूआत की जो एक हेजिंग टूल है। इसके किसान ग्वार बीज की कीमत की हेजिंग कर सकेंगे जिससे इस कृषि उत्पाद की कीमतों में गिरावट आने पर उन्हे नुकसान नहीं होगा और कीमत के हेजिंग मूल्य से अधिक होने पर किसानों को लाभ होगा।

वित्त मंत्री ने कहा कि कृषि क्षेत्र भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए प्राथमिकता वाला क्षेत्र है और सरकार की कोशिश आर्थिक लाभों को समाज के सभी तबकों विशेषकर किसानों तक पहुंचाने की है। उन्होंने इसे किसानों के लिए गेम चेंजर बताते हुये कहा कि इस अनूठे हेजिंग टूल से किसानों को कीमतों की जोखिम से निपटने और कीमतें बढऩे पर अधिक लाभ कमाने में मदद मिलेगी। 

इस अवसर पर जेटली ने एक मोबाइल ऐप भी लाँच किया जिससे किसानों को एग्री ऑप्शंस के बारे में जानने में मदद मिलेगी। इस मौके पर देशभर के विभिन्न राज्यों विशेषकर राजस्थान, गुजरात और आंध्र प्रदेश से आए किसानों और एफपीओ भी मौजूद थे। एनसीडीईएक्स के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी समीर शाह ने कहा कि ग्वार बीज ऑप्शंस एक महत्वपूर्ण हेजिंग टूल है। एग्री कमोडिटी मार्केट के लिए इसकी अहमियत को देखते हुए इस नए साधन को मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर लॉन्च किया गया है, जो कि देशभर में फसल से जुडे एक प्रमुख उत्सव के रूप में मनाया जाता है।

किसान भाइयों आप कृषि सबंधी जानकारी अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकतें हैं. कृषि जागरण का मोबाइल एप्प डाउनलोड करें और पाएं कृषि जागरण पत्रिका की सदस्यता बिलकुल मुफ्त...

https://goo.gl/hetcnu

Comments