News

हर गांव में वर्मी कम्पोस्ट योजना में शामिल होकर उठा सकते हैं लाभ

उत्तर प्रदेश सरकार ने वर्मीकंपोस्ट योजना 2018-19 के लिए गाँव को चयनित कर प्रदेश में विस्तार की योजना बनाई है। इस दौरान सरकार ने राज्य में जिलावार गांवों को एवं कृषकों को चयनित करने का लक्ष्य बनाया है। प्रदेश में कुल 95,714 गांव चयनित किए गए हैं जबकि 97,415 गांव का लक्ष्य निर्धारित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। ज्ञात हो कि इस योजना में महिलाएं भी शामिल होंगी।

इस दौरान 7385.58 लाख का वित्तीय बजट निर्धारित किया गया है। जिलेवार किसानों एवं गांवों का चयन शुरु कर दिया गया है। इस दौरान वर्मीकंपोस्ट के जरिए पशुओं के मल-मूत्र के द्वारा खाद बनाकर खेत में उपयोगकर फसल की गुणवत्ता बढ़ाए जाने के लिए उद्दम किया जा सकेगा। जाहिर है कि ऐसी योजनाओं के माध्यम से प्रदेश में कृषि को बेहतर बनाने की दिशा में एक नया आयाम स्थापित किया जा सकता है। इसके माध्यम से न केवल मिट्टी की उर्वरा शक्ति को बरकरार रखा जा सकेगा बल्कि फसल अवशेष एवं पशुओं के मल व घरों में सब्जी के छिलकों को कूड़े में न फेंककर सही दिशा में इस्तेमाल किया जाएगा।

आप भी इस योजना का हिस्सा बन सकते हैं। जिले में कृषि अधिकारी से जानकारी हासिल कर आप योजना के बारे में जान सकते हैं। ज्ञात हो कि इस वर्मीकंपोस्ट योजना के लिए चयन की प्रक्रिया भी शामिल है।



Share your comments