News

इफको ने बताया नीम के पेड़ से कमाई का रास्ता

इफको के स्वर्ण जयंती वर्ष के उपलक्ष्य में रविवार को वंशी बाजार स्थित एक मैरेज हाल में किसान एवं सहकार सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें किसानों और सहकारिता क्षेत्र से जुड़े दिग्गजों को सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथि रेल राज्य और संचार राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि किसान नीम का पौधा लगाकर अपनी आय को बढ़ा सकते हैं। एक साधारण किसान नीम के पौधे लगाकर एक वर्ष में तीस से चालीस हजार रुपये कमा सकता है। इफको द्वारा यहां वितरित किये जा रहे नीम के उन्नतशील पौधे पांच वर्ष पेड़ बन जाएंगे। इनसे मिलने वाली नीम कौड़ी को इफको ही खरीदेगा और उससे नीम कोटेड यूरिया बनाएगा। नीम का पेड़ आर्थिक लाभ के साथ- साथ औषधि व पर्यावरण संरक्षण में भी महत्वपूर्ण स्थान रखता है। जनपद में एक लाख नीम का पेड़ लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इसकी शुरूआत हो चुकी है। इफको के प्रबंधक निदेशक उदय शंकर अवस्थी ने कहा कि इफको ने किसानों के लिए बाजार डाट इन पोर्टल लांच किया है। इसके माध्यम से किसान कृषि संबंधित कोई भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। पोर्टल के माध्यम से कृषि उत्पादों का बाजार मूल्य जान सकते हैं। अपना उत्पाद बेच सकते हैं और दूसरे का खरीद भी सकते हैं। इस पोर्टल से एक करोड़ 70 लाख किसान जुड़ चुके हैं। यह किसान एक दूसरे से तकनीक और जानकारी भी साझा करते हैं। इस पोर्टल में किसानों के युवा पुत्रों के स्किल डेवलपमेंट की भी व्यवस्था है। समारोह में भाजपा जिलाध्यक्ष भानू प्रताप ¨सह, कृष्ण बिहारी राय, प्रभुनाथ चौहान, ओम प्रकाश राय, सुनील ¨सह आदि प्रमुख लोग मौजूद थे।

लकी ड्रा निकाल कर वहां मौजूद 50 किसानों को ग्रीन सिम दिया गया। इसके साथ उन्नतशील प्रजाति के नीम के पौधों का वितरण किया गया। बैंक आफ बड़ौदा की ओर से दस किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण किया गया। विभिन्न कंपनियों की ओर कृषि संबंधी जानकारी देने के लिए स्टाल भी लगाए गए थे।

रंग बहादुर सह, परमानंद राय, राजेश सह, सुनील राय, सुरेश कुशवाहा, सच्चिदानंद सह, अजय राय के साथ अन्य किसानों को भी अंगवस्त्रम् और कृषि किट देकर सम्मानित किया गया। सहकारित के क्षेत्र से पूर्व विधायक वीरेंद्र ¨सह, राजनाथ ¨सह, सराजेश ¨सह, बटुक नारायण मिश्र, ओंकार नाथ राय, पूर्व एमएलसी बच्चा यादव, रमाशंकर उपाध्याय, रविकांत राय को सम्मानित किया गया।



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in