1. ख़बरें

पीएम मोदीः टिड्डियों का हमला गंभीर, प्रभावित लोगों को सरकार देगी मदद

लगातार बढ़ रहे टिड्डियों के आतंक पर संज्ञान लेते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चिंता जताई है. रविवार को मन की बात रेडियो कार्यक्रम में देश को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एक छोटा सा जीव भी भारी तबाही मचा सकता है, टिड्डियों का हमला गंभीर है और इसलिए प्रभावित सभी लोगों की मदद के लिए सरकार तैयार है.लोगों को भरोसा देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि चाहे वह केंद्र सरकार हो या राज्य या कृषि विभाग, प्रशासन इन कीटों से लड़ने के लिए आधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल कर रहा है. हम सभी उपायों पर ध्यान दे रहे हैं और मुझे पूरा विश्वास है कि हम जल्दी ही समस्या से छुटकारा पा लेंगें.

नौ राज्यों में टिड्डियों ने बरपाया कहर

पाकिस्तान से आए टिड्डियों ने देश ने नौ राज्यों पर अपना कहर बरपाया है. सबसे अधिक नुकसान राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, मध्यप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ आदि राज्यों के किसानों को हुआ है. 

अलर्ट जारी

टिड्डियों से फसलों को बचाने के लिए देशभर में अलर्ट जारी कर दिया गया है. केंद्र के साथ राज्य सरकारे भी इनसे निपटने के लिए प्रयास कर रही है. टिड्डियों के इन दलों को मॉनसून से पहले खत्म करना जरूरी है, क्योंकि बरसात के समय तक अगर इन्हें नहीं रोका गया तो स्थिति भयावह हो सकती है और खरीफ की फसलों को भारी नुकसान हो सकता है.

भयानक रूप ले सकता है टिड्डियों का आतंक

विशेषज्ञों की माने तो टिड्डियां आम तौर पर फसलों के लिए अधिक हानिकारक नहीं है, लेकिन एक बहुत बड़ी सेना के रूप में इनका आकम्रण फसल-चक्र को नुकसान पहुंचा सकता है. वर्तमान में भारी चक्रवातों का आगमन हो रहा है और कुछ समय बाद मॉनसून आने वाला है, ऐसे में इस तरह की पर्यावरणीय परिस्थितियां इनके विकास और जन्म लेने की दर में सहायक है.

(आपको हमारी खबर कैसी लगी? इस बारे में अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर दें. इसी तरह अगर आप पशुपालन, किसानी, सरकारी योजनाओं आदि के बारे में जानकारी चाहते हैं, तो वो भी बताएं. आपके हर संभव सवाल का जवाब कृषि जागरण देने की कोशिश करेगा)

ये खबर भी पढ़ें: कृषि क्षेत्र के लिए कैसा रहा मोदी सरकार 2.0 का एक साल, पढ़िए पूरी खबर

English Summary: government will help to those Affected By Locust Attacks says pm modi on mann ki baat

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News