News

उन्नत खेती करने पर सरकार देगी 5 लाख रुपये नकद एवं एक प्रशस्ति-पत्र

किसानों का कृषि क्षेत्र की ओर रुझान बढ़ाने के साथ ही खेती में उन्नति एवं उनके जीवन में खुशहाली लाने के लिए केंद्र व राज्य सरकार कई तरीके अपनाती है. इसी कड़ी में हरियाणा सरकार इस साल से राज्य के किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए किसान रत्न पुरस्कार’ शुरू करने जा रही है. इस पुरस्कार के तहत 5 लाख रुपये नकद राशि एवं एक प्रशस्ति-पत्र प्रदान किया जाएगा. हरियाणा के 'कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री' ओम प्रकाश धनखड़ ने चंडीगढ़ में यह घोषणा की. वे कृषि, खेल और पशुपालन एवं डेयरी के क्षेत्र में, पद्मश्री एवं पद्मभूषण-2019 पुरस्कार के लिए चयनित कंवल सिंह चौहान, नरेंद्र सिंह, पहलवान बजरंग पूनिया को हरियाणा सरकार की ओर से सम्मानित करने के अवसर पर बोल रहे थे.

इस दौरान श्री धनखड़ ने देश के किसानों को पहली बार सर्वोच्च सम्मान देने के निर्णय के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया. उन्होंने कहा कि जिन 12 किसानों को सर्वोच्च सम्मान दिया जा रहा है उनमें हरियाणा की पांच विभूतियां भी शामिल हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि वे 'हरियाणा किसान आयोग''कृषि एवं किसान कल्याण विभाग' के अधिकारियों की भी सराहना करते हैं जिन्होंने पद्म पुरस्कारों की घोषणा होने के 5 दिनों के बाद ही हरियाणा के विजेताओं के लिए सम्मान समारोह का आयोजन किया है.

बकौल ओपी धनखड़, 'हरियाणा देश का पहला राज्य बन गया है, जहां पद्म विजेताओं को सम्मानित किया गया है. लगातार चौथा कृषि शिखर नेतृत्व करने वाला भी हरियाणा देश का एकमात्र राज्य है." बता दें कि इस वर्ष 15 से 17 फरवरी, 2019 तक अंतर्राष्ट्रीय फल एवं सब्जी टर्मिनस मंडी गन्नौर, सोनीपत में 'कृषि शिखर नेतृत्व'  का आयोजन होगा. कृषि मंत्री ने बताया कि अब तक 38 किसानों को इन समारोहों में रत्न उपाधि से सम्मानित किया जा चुका है और हर श्रेणी में एक-एक लाख रुपये के पुरस्कार दिए गए हैं.

इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि 'कृषि मेले में उपस्थिति दर्ज कराने वाले किसानों के लिए भी प्रतिदिन पांच पुरस्कार दिए जाएंगे, जिनमें दो ट्रैक्टर, मोटरसाइकिल तथा महिलाओं के लिए स्कूटी के लिए ड्रॉ निकाला जाएगा.'  मंत्री धनखड़ ने बताया कि 'कृषि एवं पशुपालन क्षेत्र' में पद्मश्री से सम्मानित व्यक्ति युवा किसानों के लिए प्रेरणास्रोत होंगे और पीएम मोदी की वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को हासिल करने की पहल को निश्चित रूप से आगे बढ़ाएंगे.



Share your comments