आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. ख़बरें

खुशखबरी ! जो दिहाड़ी मजदूर MMPSY के तहत पंजीकृत नहीं हैं उनको भी हर माह मिलेगा 4500 रुपये !

हरियाणा सरकार ने कोरोना से जंग के बीच सूबे के लोगों को राहत देने के लिए बड़ी घोषणा की हैं. दरअसल आपदा के दौरान घर चलाने के लिए पंजीकृत और जिनका पंजीकरण नहीं हुआ है उन निर्माण मजदूरों को भी हर महीने 4500 रुपये मिलेंगे. बीपीएल परिवारों को भी हर महीने 4500 रुपये सरकार देगी. इन्हें राशन भी फ्री मिलेगा. दिहाड़ी मजदूरों, रिक्शा चालकों, स्ट्रीट वेंडर्स को जिलों में डीसी के पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा. उन्हें भी 4500 रुपये हर महीने मिलेंगे..

मुफ्त इलाज करवाएगी सरकार

इसके अलावा उन्होंने हाल ही में कहा था कि कोरोना से जंग लड़ने वालों में से कोई संक्रमित होता है तो इलाज खर्च सरकार वहन करेगी, मरीज का इलाज करने के दौरान कर्मचारियों की मृत्यु होने पर एक्सग्रेसिया के तहत 10 लाख रुपये दिए जाएंगे. हरियाणा कोरोना रिलीफ फंड स्थापित कर दिया गया है. बतौर सीएम अपने निजी खाते से उन्होंने 5 लाख रुपये दिए हैं. विधायक एक महीने का वेतन देंगे. आईएएस ने एक महीने के वेतन का 20 प्रतिशत देने की बात कही है. इसके अलावा प्रदेश सरकार ने कैंसर व किडनी रोग से पीड़ित नागरिकों को 2250 रुपए प्रतिमाह पेंशन देने का निर्णय लिया है .

हर व्यक्ति सहयोग कर सकता है

सीएम मनोहर लाल ने अपील की है कि ग्रुप डी कर्मियों को छोड़कर बाकी कर्मचारी 10 प्रतिशत वेतन दें. स्वैच्छिक तौर पर हर व्यक्ति सहयोग कर सकता है. हरियाणा सरकार की खाता संख्या 39234755902 में आईएफएससी कोड एसबीआई एन 0013180 में राशि जमा करा सकते हैं. बैंक शाखा पंचकूला के सेक्टर-10, एससीओ 14 में स्थित है.

ये खबर भी पढ़ें: खुशखबरी ! किसानों को आज से 3% ब्याज दर पर मिलेगा फसल रहन लोन !

English Summary: Good News ! Daily wage laborers who are not registered under MMPSY will also get 4500 rupees every month!

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News