आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. ख़बरें

नहीं! बहुत हो गया, अब नहीं, अब तो पूरे देश में लगेगा लॉकडाउन, क्योंकि....!

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Lockdown

कोरोना वायरस से हालात इस कदर बेकाबू हो चुके हैं कि कोई किसी की सुध लेने वाला नहीं रह गया है और आज तो हद ही हो गई है. संक्रमण के मामले 4 लाख के आंकड़े को छू चुके हैं. मौत का आंकड़ा भी अपने चरम पर पहुंचने पर आमादा है. अगर यह सिलसिला यूं ही जारी रहा, तो एक बार फिर से देश की गलिया खामोश हो जाएंगी. अभी जो कुछ चेहरे मुस्कुराते हुए नजर आ रहे हैं. वे मायूसी के सैलाब में सराबोर हो जाएंगे.

वहीं, भारत में कोरोना से विकट हो चुकी स्थिति को मद्देनजर रखते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के चिकिस्तक विशेषज्ञ एंथनी फाउची ने कहा कि, 'अगर भारत में समय  रहते देशव्यापी लॉकडाउन नहीं लगाया गया, तो स्थिति पर काबू पाना मुश्किल हो सकता है, चूंकि वहां (भारत) हालात बद से बदतर हो चुके हैं. भारत में हालातों की संजीदगी का अंदाजा आप महज इसी से लगा सकते हैं कि यहां अब ऑक्सीजन के अभाव में मरीज दम तोड़ते जा रहे हैं. अस्पतालों में मरीजों को बेड तक उपलब्ध नहीं हो पा रहे हैं. हालातों की गंभीरता अपने चरम पर पहुंच चुकी है'.

ऐसे आलम में किसी अमेरिकी चिकित्सक विशेषज्ञ का भारत में लॉकडाउन लगाने का बयान देना काफी अहम माना जा रहा है. अमेरिकी चिकित्सक विशेषज्ञ एंथनी फाउची ने कहा कि, 'भारत में हालात तभी काबू में आएंगे जब पूरे देश को कुछ दिनों के लिए बंद किया जाएगा, नहीं तो स्थिति यथावत बनी रहेगी'. बता दें कि मौजूदा समय में विकट हो चुकी स्थिति को ध्यान में रखते हए पूरे देश में तो लॉकडाउन नहीं लगाया गया है, मगर सिर्फ उन्हीं जगहों पर लॉकडाउन लगाया गया है, जहां कोरोना से हालात हद से ज्यादा विकट हो चुके हैं, लेकिन वर्तमान में जिस तरह से देश के हालात संजीदा होते जा रहे हैं, उसे देखते हुए ऐसा माना जा रहा है कि अगर यह सिलसिला यूं ही जारी रहा तो फिर से देशव्यापी लॉकडाउन लगाया जा सकता है और अब अमेरिकी चिकित्सक विशेषज्ञ के बयान ने इस मसले को और बलवंत कर दिया है.

सरकार पूरी तरह कर चुकी है खारिज...

यहां हम आपको बताते चले कि पूरे देश में लॉकडाउन लगाने के संदर्भ में केंद्र सरकार इनकार कर चुकी है. बीते दिनों खुद अमित शाह ने गेंद राज्यों के पाले में डालते हुए कहा था कि राज्य सरकारें अपने यहां के हालातों को मद्देनजर रखते हुए लॉकडाउन लगाने पर फैसला कर सकती है, जिसको ध्यान में रखते हुए अब महाराष्ट्र, दिल्ली समेत कई राज्यों में साप्ताहिक या राज्यव्यापी लॉकडाउन लगाया जा चुका है. 

 

टीकाकरण बढ़ाना होगा

वहीं एंथनी फाउची ने देश में टीकाकरण बढ़ाने पर जोर दिया है. उन्होंने कहा कि देश में कोरोना के कहर को कम करने के लिए सभी लोगों को वैक्सीन लेना होगा, ताकि  सभी की इम्यूनिटी पावर मजबूत बने.

English Summary: due to corona virs there will be a nation wide lockdown

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News