News

पीएम मोदी के हेलिकॉप्टर को चेक करना अधिकारी को पड़ा महंगा, चुनाव आयोग ने किया सस्पेंड !

केंद्रीय चुनाव आयोग ने ओडिशा के संबलपुर में मंगलवार को पीएम मोदी के हेलीकॉप्टर की तलाशी लेने पर वहां के जनरल ऑब्जर्वर मोहम्मद मोहसिन को निलंबित कर दिया है. मोहम्मद मोहसिन कर्नाटक कैडर के आइएएस अधिकारी हैं. बता दे कि अप्रैल 2014 में जारी चुनाव आयोग के निर्देशों के मुताबिक एसपीजी (Special Protection Group ) सुरक्षा प्राप्त व्यक्तियों को तलाशी से छूट हासिल है. हालांकि चुनाव आयोग या सरकार ने इस मामले में आधिकारिक रूप से कोई जानकारी अभीतक नहीं दी है.

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर की अचानक हुई तलाशी की वजह से प्रधानमंत्री मोदी को 15 मिनट तक रुके रहना पड़ा था. पीएम मोदी मंगलवार को संबलपुर में एक रैली को संबोधित करने के लिए गये था. गौरतलब है कि निलंबन आदेश में चुनाव आयोग ने कहा है कि मोहम्मद मोहसिन ने चुनाव आयोग के वर्तमान नियमों का उल्लंघन किया है. ख़बरों के मुताबिक, 'ऐसे निर्देश हैं कि एसपीजी सुरक्षा प्राप्त व्यक्तियों को तलाशी से छूट हासिल है. ऑब्जर्वर होने के नाते उन्हें निर्देशों की जानकारी होनी चाहिए थी. उनके निलंबन का कारण कर्तव्यों की उपेक्षा है. इस मामले की जांच करने के लिए चुनाव आयोग ने उपचुनाव आयुक्त धर्मेद्र शर्मा को संबलपुर भेजा है. उनसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुड़े मामले की विस्तृत जांच करके दो दिन में रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा गया है.

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान के हेलीकॉप्टरों की भी तलाशी

ख़बरों के मुताबिक, चुनाव आयोग के उड़नदस्तों ने मंगलवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के हेलीकॉप्टर की भी राउरकेला में तलाशी ली. वहीं, संबलपुर में मंगलवार को ही केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान के हेलीकॉप्टर की भी तलाशी ली गई थी.



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in