केले की इस सबसे बड़ी बीमारी का जल्द ही होगा समाधान...

केले में होने वाली बीमारी पनामा बिल्ट से किसानों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा हैं। लेकिन कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार का कहना है कि केले में होने वाली बीमारी से किसानो को छुटकारा दिलाया जाएगा। इस समस्या का हल निकलने पर केला उत्पादक किसानों के आय में और वृद्धि होगी।  अंतरराष्ट्रीय संस्थाएं और कृषि वैज्ञानिक मिलकर बिहार में इस समस्या पर काम करेंगे।

केले की बीमारी के समाधान हेतु कृषि मंत्री बेल्जियम गए हुए थे जो मंगलवार को पटना पहुंचे. हवाई अड्डा पर विभागीय अधिकारी व पार्टी नेताओं की ओर से किए गए स्वागत समारोह के बाद मंत्री ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि पनामा बिल्ट बीमारी से केले के फसल और किसानो को काफी नुकसान हो रहा है। और राज्य में भारी मात्रा में केले की खेती की जाती हैं।

अब तक इसके समाधान का कारगर उपाय नहीं हो सका है। बेल्जियम के वैज्ञानिकों ने इस बात में शोध किया और सफलता पाई है। बेल्जियम ने फ्रांस व इटली की यात्रा के दौरान पाया कि तीनों देशों में केला सहित अन्य सब्जियों व फलों में होने वाली बीमारियों के समाधान के लिए हुए अनुसंधान पर संयुक्त राष्ट्र की संस्थान कंसल्टिव ग्रुप ऑफ इंटरनेशनल एग्रीकल्चर रिसर्च के साथ इस मसले पर चर्चा हुई है।

मंत्री के साथ कृशि उत्पादन आयुक्त सुनील कुमार सिंह, निदेशक उद्यान अरविन्दर सिंह, कृषि वैज्ञानिक डॉ अमरेन्द्र कुमार प्रतिनिधिमंडल में शामिल थे। मंत्री ने  कहा कि यात्रा के दौरान चावल के विभिन्न प्रभेदों की खेती, कटहल, जैतून की खेती पर भी आपसी सहयोग और रिसर्च पर सहमति बानी हैं। इसके अलावा जल्द ही विदेशी वैज्ञानिक बिहार का दौरा करेंगे।

Comments