महाराष्ट्र में दूध के एमएसपी को लेकर फूटा किसानों का गुस्सा, विरोध में बांटा मुफ्त दूध

महाराष्ट्र में किसान एक और बड़े आंदोलन में जुट गए हैं। इस बार वहां के डेयरी किसान आंदोलन की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने दूध की सही कीमत न मिलने के विरोध में 3 मई से कलेक्टर के दफ्तर के बाहर मुफ्त दूध बांटना शुरू कर दिया है। नाराज़ किसानों ने 3 मई से 9 मई तक हर जिले के कलेक्टर के दफ्तर के बाहर मुफ्त में दूध बाटने का फैसला किया है।

किसानों ने इसके खिलाफ राज्य के कुछ मुख्य जिले जैसे अहमदनगर, औरंगाबाद, सांगली, सतारा, पुणे और कोल्हापुर में विरोध प्रदर्शन दर्ज करने का फैसला किया है। बता दें कि सरकारी एजेंसियों के द्वारा किसानों को अभी एक लीटर दूध के 19 रुपये दिये जा रहे हैं लेकिन किसान एक लीटर दूध की कीमत 27 रुपये देने की मांग कर रहे हैं। किसान अपना विरोद प्रदर्शन ऑल इंडिया किसान महासभा के नेतृत्व में करेंगे। किसानों का कहना है कि मौजूदा राशी में दूध बेचने से उनकी लागत भी नहीं निकल रही है लेकिन सरकार इस बात को नहीं समझ रही है।

अभी कुछ दिनों पहले ही किसानों ने कर्ज माफी और फसल की उचित दामों की मांग को लेकर एक बड़ा आंदोलन किया था जिसमें किसानों ने नासिक से मुंबई की 180 किलोमीटर लंबी यात्रा की थी। आगे डेयरी किसनों ने भी चेतावनी दी है की अगर सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो किसान 9 मई को मुंबई कूच करेंगे और राज्य सचिवालय को घेरेंगे।

बता दें की डेयरी किसानों का यह मामला पिछले साल से ही तुल में है और सरकार ने किसानों को 27 रुपये प्रति लीटर की कीमत देने का वादा किया था.

Comments