MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. पशुपालन

Top Cow Breeds: ये हैं गाय की टॉप-पांच नस्लें, दूध से भर देती हैं बाल्टी, जानें- पहचान और विशेषताएं

Top Five Breeds of Cow: अगर आप भी गाय पालन करने के बारे में विचार कर रहे हैं, तो गाय की ये टॉप पांच नस्लें गाओलाओ गाय, कोसली गाय, कोंकण कपिला गाय, घुमुसारी गाय और कृष्णा वैली गाय एक ब्यांत में लगभग 725 लीटर तक दूध देंगी.

लोकेश निरवाल
लोकेश निरवाल
गाय की टॉप पांच नस्लें, जो देती हैं बम्पर दूध (Image Source: Pixabay)
गाय की टॉप पांच नस्लें, जो देती हैं बम्पर दूध (Image Source: Pixabay)

Top Five Breeds of Cow: देश के किसानों के द्वारा अपनी आमदनी को बढ़ाने के लिए खेती-बाड़ी के साथ पशुपालन भी करते है. अगर आप भी पशु पालन करके अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार करना चाहते हैं, तो आज हम आपके लिए गाय की टॉप पांच नस्लें की जानकारी लेकर आए हैं, जो प्रति ब्यांत में औसतन 725 लीटर तक दूध देती हैं. दरअसल, जिन गायों की हम बात कर रहे हैं, वह गाओलाओ गाय, कोसली गाय, कोंकण कपिला गाय, घुमुसारी गाय और कृष्णा वैली गाय/ Gaolao Cow, Kosali Cow, Konkan Kapila Cow, Ghumusari Cow and Krishna Valley Cow है. इन गायों के दूध में वसा की मात्रा भी काफी अच्छी होती है और साथ ही यह कम लागत में आसानी से पाली जा सकती है.

गाय की ये टॉप पांच नस्ल की भारत के विभिन्न राज्यों में पाली जाती हैं. ऐसे में आइए इन दुधारू गायों की नस्लों के बारे में विस्तार से जानते हैं-

गाय की टॉप पांच नस्लें/ Top Five Breeds of Cow

गाओलाओ गाय/ Gaolao Cow - गाय की यह नस्ल मुख्य रूप से मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के इलाकों में पाली जाती है. यह गाय कद काठी में अच्छी और शरीर पर सफेद से सलेटी रंग पाया जाता है. गाओलाओ गाय एक ब्यांत में औसतन 470 से 725 लीटर तक दूध देती है. साथ ही इसके दूध में करीब 4.32 प्रतिशत तक वसा पाया जाता है.

कोसली गाय/ Kosali Cow - गाय की यह नस्ल छत्तीसगढ़ के इलाकों में रहने वाले पशुपालकों के द्वारा पाली जाती है. कोसली गाय एक ब्यांत में लगभग 200 से 250 लीटर तक दूध देती है. इसके दूध में 4.5 प्रतिशत फैट की मात्रा होती है. वहीं, कोसली गाय का कुल वजन 150 से 200 किलोग्राम होता है. कोसली गाय का रंग सफेद-भूरा होता है साथ ही इसका रंग हल्का लाल भी पाया जाता है.

कोंकण कपिला गाय/ Konkan Kapila Cow - गाय की कोंकण कपिला नस्ल महाराष्ट्र और गोवा के इलाकों में पाई जाती है. यह गाय एक ब्यांत में लगभग 400-500 लीटर दूध देती है और इसके दूध में करीब 4.6 प्रतिशत वसा  की मात्रा होती है. वहीं, इस गाय का कुल वजन 200-225 किलोग्राम होता है. कोंकण कपिला गाय देखने में भूरे या हल्का पीला रंग की होती है. इस गाय का चेहरा सीधा  और छोटे से मध्यम आकार में होता है.

घुमुसारी गाय- घुमुसारी गाय ओडिशा के पशुपालकों के द्वारा अधिक पाली जाती है. यह गाय एक ब्यांत में लगभग 450 से 650 लीटर दूध देती है और वहीं, इसके दूध में 4.8 प्रतिशत और 5 प्रतिशत के बीच वसा की मात्रा होती है. घुमुसारी गाय का कुल वजन लगभग 150 से 200 किलोग्राम होता है. इस गाय का ज्यादातर रंग सफेद होता है.

ये भी पढ़ें: भारत की टॉप 5 उच्च मांग वाले दूध उत्पादन वाली मवेशी नस्लें

कृष्णा वैली गाय/ Krishna Valley Cow - कृष्ण वैली गाय को कर्नाटक के किसानों के द्वारा अधिक पाला जाता है. गाय की यह नस्ल एक ब्यांत में 400-700 लीटर दूध देती है. यह गाय लगभग सभी तरह के जलवायु में आसानी से रह लेती हैं. इस गाय का कुल वजन 300-350 किलोग्राम होता है.

English Summary: Cow breeds top Five Breeds of Cow milch breeds of cows farming top breed of cow Dairy Farming in india Published on: 23 December 2023, 11:33 IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News