1. सरकारी योजनाएं

PM Awas Yojana: अब सपनों का घर खरीदना हुआ आसान, सिर्फ 4 लाख में मिल रहा फ्लैट

स्वाति राव
स्वाति राव

राजधानी लखनऊ में अपना घर खरीदने वालों का सपना अब होगा साकार. भारत सरकार द्वारा शुरू की गयी प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत अब उत्तर प्रदेश की राजधानी में अपना आशियाना खरीदने का सुनहरा मौका आम जनता को दिया जा रहा है.

दरअसल, लखनऊ विकास प्राधिकरण प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्राहकों के लिए अपना घर खरीदने का एक ख़ास और बेहतरीन मौका लेकर आया है. बता दें इस योजना के अंतर्गत फ्लैट्स खरीदने वाले लोगों को मात्र 4 लाख रूपए में घर खरीदने का मौका मिलेगा. लखनऊ विकास प्राधिकरण की तरफ से जो फ्लैट बनाये जा रहे हैं उनकी कीमत 6 लाख रूपए है, जो पीएम आवास योजना के द्वारा दी जा रही सब्सिडी के बाद लाभार्थी को मात्र 4 लाख रुपये में फ्लैट उपलब्ध कराया जा रहा है. इस योजना का लाभ उठाने के लिए एलडीए की तरफ से ग्राहकों के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. अगर आप भी  अपना आशियाना खरीदना चाहते हैं तो जल्द करें रजिस्ट्रेशन.

कितनी दी जा रही सब्सिडी (How Much Subsidy Is Being Given)

इस योजना के तहत लाभार्थी को तीन लाख से ज्यादा 3.20 लाख का लोन भी बैंक की तरफ से दिया जायेगा. जिसमें ढाई लाख रुपये का सब्सिडी दिया जा रहा है. यानि कि फ्लैट की कीमत 6 लाख रूपए है जिसमें आपको फ्लैट के लिए महज़ चार लाख रुपये ही देने होंगे. वहीं इन चार लाख रुपये में 3.20 लाख का लोन भी बैंक दे रही है.

इस खबर को पढ़ें - PM Awas Yojana के List में आपका नाम है या नहीं, ऐसे करें चेक

पीएम आवास योजना का उद्देश्य (Purpose Of PM Awas Yojana)

बता दें यह योजना जिसका उद्देश्य वर्ष 2022 तक शहरी गरीबों को किफायती आवास प्रदान करना है. यह योजना पहली बार 1 जून 2015 को शुरू की गई थी. पीएमएवाई योजना के लिए ब्याज दर शुरू होती है 6.50% प्रति वर्ष और 20 साल तक के कार्यकाल के लिए इसका लाभ उठाया जा सकता है.

कैसे करें आवेदन (How To Apply)

जो भी लाभार्थी इस योजना के माध्यम से घर खरीदने के लिए रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं वे पीएम आवास योजना की अधिकारिक लिंक http://pmaymis.gov.in/  पर विजिट कर आवेदन कर सकते हैं.  

English Summary: golden opportunity to buy your home at low price in the capital of uttar pradesh

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters